मुंबई,

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस ने मुबई की मेज़बानी में यूथ ओलंपिक 2026 और ओलंपिक 2032 खेलों की मेजबानी करने की इच्छा जताई है।

भारत दौरे पर आये अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी)के अध्यक्ष थामस बाक ने शुक्रवार को मुंबई का दौरा भी किया था और यहां चल रहे खेल परियोजनाओं का भी ब्योरा लिया। इसके बाद राज्य के मुख्यमंत्री ने यूथ और सीनियर खेलों की मुंबई में मेजबानी करने की इच्छा व्यक्त की।

भारतीय ओलंपिक संघ(आईअोए) के अध्यक्ष नरेंद्र ध्रुव बत्रा की तरफ से भी मुंबई को काफी समर्थन हासिल है। वहीं अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति(आईओसी) की पहली महिला भारतीय सदस्य नीता अंबानी ने भी फणनवीस का समर्थन किया है।

बाक ने मुंबई दौरे में फणनवीस, नीता और बत्रा के अलावा पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, कई भारतीय एथलीटों से भी मुलाकात की और रिलांयस फाउंडेशन के तहत बच्चों के लिये जमीनी स्तर पर चलाये जा रहे खेल कार्यक्रमों का भी जायजा लिया। उन्होंने बच्चों का फाइव ए साइड फुटबाल मैच और बास्केटबॉल ट्रेनिंग भी देखी।

इस दौरान मौजूद ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता निशानेबाज़ अभिनव बिंद्रा ने भी यूथ ओलंपिक की मेजबानी का समर्थन करते हुये कहा“यदि हम बहु खेल आयोजनों की मेजबानी करना चाहते हैं तो यूथ ओलंपिक उसके लिये सबसे अच्छा आयोजन होगा। इससे जमीनी स्तर पर प्रतिभाओं को निखारने में निवेश होगा जो भविष्य के लिये अच्छे खिलाड़ी तैयार करेगा। मैं मुंबई को इसके लिये शुभकामनाएं देता हूं।”

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने मुंबई के यूथ ओलंपिक खेल 2026 की मेजबानी करने के लिये अपनी प्रतिबद्धता जताई और साथ ही ओलंपिक खेल 2032 की मेजबानी करने के लिये भी इच्छा व्यक्त की। इससे पहले बत्रा ने कहा था कि भारत वर्ष 2026 यूथ ओलंपिक, 2030 एशिया गेम्स और 2032 ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने के लिये दावा ठोकेंगे और भले ही ये खेल भारत आयें या नहीं लेकिन इसके लिये वह मजबूती से दावेदारी करेगा।