bazarमुंबई 29 जून. यूनान के दिवालिया होने की कगार पर पहुँचने से हतोत्साहित निवेशकों की भारी बिकवाली से विदेशी बाजारों में आये भूचाल से आज घरेलू शेयर बाजार भी हकलान रहा.

चौतरफा बिकवाली से बीच सत्र तक दो प्रतिशत से अधिक तक लुढ़के बाजार को इसके बाद नीचे भाव पर हुयी लिवाली ने इसकी गिरावट की रफ्तार को धामा, जिससे बीएसई का तीस शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 166.69 अंक अर्थात 0.60 प्रतिशत टूटकर 27645.15 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 62.70 अंक यानि 0.75 प्रतिशत गिरकर 8300 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर के पार 8318.40 अंक पर बंद हुआ. शनिवार को ऋण संकट समाधान का एक और प्रयास विफल होने के बाद यूनान में बैंकों और एटीएम मशीनों को बंद कर दिया गया है तथा रिण के पुनर्भुगतान के लिए 48 घंटे से भी कम समय बचे होने और इसके लिए कोई व्यवस्था नहीं हो पाने से उसके दिवालिया होने की आशंका बढ रही है.

Related Posts:

बिग बी को फंसाने की साजिश थी
मप्र में हो रही अच्छी वर्षा, महाकौशल में मानसून प्रबल
विकास तेज करने के लिए कई कदम उठा रही है सरकार : जेटली
पांच सौ और एक हजार के नोट जमा कराने के लिए दूसरे दिन भी लंबी लाइनें
विधि निर्माताओं को उच्चमतम न्यायालय के निर्देश का सम्मान करना चाहिए : सरकार
अब तक जारी हुये 14 तरह के दस रुपये के सिक्के, सभी मान्य : आरबीआई