yogaनई दिल्ली/लखनऊ, 8 जून. स्कूलों के पाठ्यक्रम में भगवद्गीता को शामिल किए जाने के खलिाफ है मुस्लिम लॉ बोर्ड ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कुछ राज्य सरकारों के अपने यहां स्कूलों के पाठ्यक्रम में भगवद्गीता को शामिल किए जाने तथा सूर्य नमस्कार और योग की शिक्षा के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का फैसला किया है. दूसरी तरफ सरकार ने जवाब दिया है योग का धर्म से कोई लेना-देना नहीं है.

भगवाकरण का आरोप: बयान के मुताबिक बैठक में देश के मौजूदा हालात का जायजा लेते हुए चिंता जताई गई कि इस वक्त फिरकापरस्त ताकतें देश को धर्मनिरपेक्षता के रास्ते से हटाने पर तुली हुई नजर आती हैं. शिक्षा को भगवा रंगत दी जा रही है.