मुख्यमंत्री ने मंजूर कर राज्यपाल को भेजा

Raghav jeeभोपाल, 5 जुलाई. विवादास्पद कथित अश्लील सीडी सामने आने तथा नौकर द्वारा पुलिस में शिकायत देने के बाद मध्य प्रदेश के वित्त मंत्री राघवजी ने शुक्रवार को यहां अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने अपना इस्तीफा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को इस्तीफा सौंप दिया, जिसे मुख्यमंत्री ने मंजूर कर अपनी सिफारिश के साथ राज्यपाल रामनरेश यादव को भेज दिया है।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री चौहान ने राघवजी का इस्तीफा मंजूर कर वित्त विभाग का प्रभार जल संसाधन मंत्री जयंत मलैया को सौंपा है। जानकारों के अनुसार राघवजी को लेकर एक अश्लील सीडी सामने आने तथा उनके नौकर राजकुमार द्वारा कथित तौर पर पुलिस में यौन प्रताडऩा की लिखित शिकायत देने के बाद मुख्यमंत्री चौहान ने उन्हें अपने पद से इस्तीफा देने को कहा था। राघवजी के नौकर राजकुमार ने अपनी यह लिखित शिकायत यहां हबीबगंज पुलिस थाने में दी थी।

उधर, राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता अजय सिंह ‘राहुल’ ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण एवं दुखद बताते हुए कहा कि राजनीति में ‘भ्रष्टाचार’ से अधिक खतरनाक ‘नैतिक भ्रष्टाचार’ है।

इस्तीफे के बाद एमपी में सियासी बवाल
मध्यप्रदेश में विधानसभा आमचुनाव से मात्र चार माह पहले कथित अश्लील सीडी सामने आने तथा नौकर द्वारा पुलिस में यौन प्रताडऩा की शिकायत कराने के बाद वित्तमंत्री राघवजी के इस्तीफे ने प्रदेश की राजनीति में भूचाल ला दिया है. मंत्रीपद से इस्तीफा देने के बाद राघवजी ने शुक्रवार को आवास पर संवाददाताओं से कहा कि सुबह साढ़े दस बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें टेलीफोन करके इस्तीफा देने को कहा तथा यह भी कहा कि वह इस बारे में उनसे बाद में चर्चा करेंगे.

राघवजी ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर उन्होंने तत्काल फैक्स पर अपने पद से इस्तीफा उन्हें भेज दिया है। उन्होंने कहा कि उन पर जो भी आरोप लग रहे हैं, वे सब गलत हैं तथा कथित अश्लील सीडी किसी षडय़ंत्र का हिस्सा हैं. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यदि कांग्रेस इस आरोप को मुद्दा बनाती है, तो वह हल्की मानसिकता का परिचय देगी। उन्होंने कहा कि राजकुमार एक गरीब घर का बच्चा है और पिछले तीन-चार साल से उनके यहां काम कर रहा है।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार, वित्तमंत्री राघवजी का इस्तीफा मुख्यमंत्री ने सुबह अपनी सिफारिश के साथ राज्यपाल रामनरेश यादव को भेजा, जिसे उन्होंने दोपहर बाद मंजूर कर लिया है। मुख्यमंत्री ने इस बीच वित्त विभाग का प्रभार प्रदेश के जल संसाधन मंत्री जयंत मलैया को सौंप दिया है।

Related Posts: