रायपुर,

इसी सप्ताह सात दिसम्बर को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री के पद पर अपने 14 वर्षों का कार्यकाल पूरा करने वाले डा.रमन सिंह लगातार चुनावी सफलताएं हासिल कर रही भारतीय जनता पार्टी के पहले मुख्यमंत्री बन जायेंगे।

इसी वर्ष 14 अगस्त को लगातार पांच हजार दिन पद पर रहने का रिकार्ड बनाने वाले डा.सिंह ने साधारण किसान परिवार में जन्म लेकर पार्षद से राजनीतिक सफर शुरू किया था,और 2003 में राज्य में हुए चुनावों में भाजपा को बहुमत मिलने के बाद सात दिसम्बर को मुख्यमंत्री पद का दायित्व संभाला था।

उनके नेतृत्व में भाजपा ने लगातार तीन विधानसभा चुनाव जीते,और इस दौरान लोकसभा के हुए तीन चुनावों में 11 में 10 सीटों पर भाजपा उम्मीदवारों की जीत दिलाई।

राजनीतिक मोर्चे से लेकर विकास के मोर्चे तक उपलब्धियों का एक लम्बा चौड़ा रिकार्ड बनाने वाले डा.सिंह 14 वर्ष तक लगातार पद पर बने रहने वाले भाजपा के मुख्यमंत्रियों में पहले स्थान पर जबकि देश के मौजूदा मुख्यमंत्रियों में चौथे स्थान पर बने हुए है।

मौजूदा मुख्यमंत्रियों में डा.सिंह से अधिक समय से मुख्यमंत्री रहने वालों में सिक्किम के मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिग पहले,त्रिपुरा के मुख्यमंत्री मणिक सरकार दूसरे तथा ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक तीसरे स्थान पर है।

पिछले वर्ष ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गुजरात के 4610 दिन तक का मुख्यमंत्री रहने का रिकार्ड तोड़ चुके डा.सिंह के कार्यकाल के आसपास भी इस समय कोई भाजपा शासित राज्य का मुख्यमंत्री नही है।

देश में सर्वाधिक कार्यकाल वाले ..टाप टेन.. मुख्यमंत्रियों की सूची में काफी पहले अपना नाम दर्ज करवा चुके डा.सिंह भाजपा के सर्वाधिक कार्यकाल वाले मुख्यमंत्री बनने के साथ ही शायद पार्टी के पहले मुख्यमंत्री होंगे,जोकि व्यक्तिगत रूप से कभी विवादों में नही घिरे।

राजनीतिक जागरूकता के इस दौर में जबकि महज एक कार्यकाल में मुख्यमंत्रियों को अपनी व्यक्तिगत छवि तक आम लोगो में बनाए रखने की जहां बड़ी चुनौती होती है,वहीं सरकार एवं मंत्रियों के कामकाज पर सवाल उठाने वाले भी मानते है कि 14 वर्ष बाद भी डा.सिंह की जन नेता की छवि सब पर भारी है।

Related Posts: