राज्यपाल पटेल ने की बाल निकेतन और राजभवन के कर्मचारियों के बच्चों से भेंट

भोपाल,

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि बच्चों में शिक्षा की योग्यता के साथ-साथ प्रतिभा और कौशल भी छिपा होता है. इसे समझकर बच्चों को प्रोत्साहित करना चाहिये. उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं की प्रतिभा को प्रदर्शित करने तथा उन्हें खेलकूद के अवसर प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने खेलो भारत का नारा दिया है.

राज्यपाल ने यह बात मंगलवार को राजभवन में बाल निकेतन की बालिकाओं और राजभवन के कर्मचारियों के बच्चों को विशेष रूप से आमंत्रित कर उनसे भेंट के दौरान कहीं. राज्यपाल ने बच्चों के कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए नन्हें बच्चों से दीप प्रज्जवलित करवाया.

इस अवसर पर राज्यपाल पटेल ने बाल निकेतन की छात्राओं की पेंटिंग में रूचि रखने वाली कुमारी प्रीति भारती, मनीषा भारती और गायन में निपुण कुमारी महिमा तिवारी, कुमारी जुही तिवारी तथा राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में भाग लेने वाले रोहित सिंघानिया और राज्य स्तरीय बाक्सिंग प्रतियोगिता में भाग लेने वाले राजू सिंघानिया को चेक और उपहार भेंट कर पुरस्कृत किया.

माता-पिता को ही नहीं पता रहतीं बच्चों की प्रतिभाएं

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि माता-पिता को ही नहीं पता रहता है कि उनके बच्चे में कौन-सी कला, कौशल और प्रतिभा छिपी है. उन्होंने कहा कि बच्चों को राजभवन आमंत्रित करने का उद्देश्य उनकी प्रतिभा को जानने, उसे बढ़ाने और प्रोत्साहित करने का अवसर प्रदान करना है. उन्होने कहा कि हमारे देश में बच्चों को पढ़ाने पर ही विशेष ध्यान दिया जाता है.

राज्यपाल पटेल ने कहा कि परीक्षाएं खत्म होने के बाद राजभवन में पेंटिग, चित्रकला, गायन तथा साईंस विषय पर आधारित प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जायेगा. उन्होने कहा कि बच्चों को यहां आमंत्रित करने का उद्देश्य उन्हें अपनी प्रतिभा और कौशल को प्रस्तुत करने का मंच प्रस्तुत करना है.

इस अवसर पर प्रीति भारती और मनीषा भारती ने उनके द्वारा शाल, दुपटटा और छाते तथा अन्य वस्त्रों पर की गई पेंटिंग राज्यपाल को दिखाई. बच्चों ने गांधी जी के प्रिय भजन, सरस्वती वंदना, प्रार्थना तथा अन्य गीत प्रस्तुत किये. राज्यपाल ने स्वयं बच्चों के पास जाकर उन्हें दुलार किया. कार्यक्रम का संचालन मास्टर धमेंद्र मालवीय ने किया. राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मास्टर धर्मेन्द्र की संचालन शैली की सराहना की.

Related Posts: