नयी दिल्ली,

उच्चतम न्यायालय ने आज केंद्र सरकार को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के दोषी ए जी पेरारीवलन की रिहाई को लेकर अपना रुख स्पष्ट करने और इस संबंध में दो सप्ताह में अपना जवाब पेश करने को कहा।

न्यायमूर्ति रंजन गोगोई की अगुआई वाली दो सदस्यीय खंडपीठ ने मामले की सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार को इस मामले पर जवाब देने और पेरारीवलन की रिहाई पर अपना रुख स्पष्ट करने के लिए दो सप्ताह का समय दिया।

न्यायालय ने कहा कि केंद्र इस पर अपना रुख स्पष्ट करे कि वह पेरारीवलन को रिहा करना चाहती है या कुछ और।मामले की अगली सुनवाई की तारीख छह दिसंबर तय की गयी है।

गौरतलब है कि तमिलनाडु सरकार ने पहले पेरारीवलन को रिहा करने का निर्णय लिया था जिसका केंद्र सरकार ने विरोध किया था।

Related Posts: