नयी दिल्ली/पंचकूला,  डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को साध्वी बलात्कार मामले में कल हरियाणा के पंचकूला की केन्द्रीय जांच ब्यूराे (सीबीआई) की विशेष अदालत के दोषी ठहराए जाने के बाद बाबा समर्थकों के उत्पात में मरने वालों की संख्या बढ़कर 31 हो गई है।

पंचकूला पुलिस नियंत्रण कक्ष के अनुसार हरियाणा में फिलहाल स्थिति नियंत्रित लेकिन तनावपूर्ण है । पंचकूला और बाबा के गढ़ सिरसा में भी स्थिति बहुत तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में बताई जा रही है। नियंत्रण कक्ष के अनुसार हिंसा की घटनाओं में 31 लोगों की मौते हुई हैं जिनमें पंचकूला में 29 आैर सिरसा में दो लोगों के मारे जाने की रिपोर्टें हैं। इस हिंसक घटनाओं में ढाई सौ से अधिक लोग घायल हुए हैं। सबसे ज्यादा नुकसान पंचकूला में हुआ है।

दिल्ली में आगजनी तथा तोड़फोड के बाद मध्य और उत्तर जिला को छोड़कर एहतियातन धारा 144 लगा दी गई है। दिल्ली पुलिस ने आज बताया कि राजधानी में स्थिति पूरी तरह काबू में है। दिल्ली से स्टे गाजियाबाद और नोएडा में भी एहतियातन धारा 144 लागू है। दिल्ली में कुल 13 पुलिस जिले हैं। राम रहीम समर्थकों के उपद्रव को देखते हुए राजधानी में चौकसी बढ़ा दी गई है।

बाबा समर्थकों ने कल दिल्ली में भी कुछ जगहों पर हिंसा की। दिल्ली परिवहन निगम की कयी बसों में तोड़फोड़ और आग लगा दी थी। आंनद विहार रेलवे स्टेशन पर रीवा एक्सप्रेस के दो खाली कोचों को आग के हवाले कर दिया था दिल्ली में आज कई निजी स्कूलों ने तोड़फोड़ की आशंका और एहतियात के तौर छुट्टी कर दी है। इसके अलावा गाजियाबाद के जिलाधिकारी ने भी राज्य के सभी स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है।

Related Posts: