vid2टयूनिस, उत्तरी अफ्रीकी देश ट््यूनीशिया के राष्ट्रपति के सुरक्षा गार्डों की बस पर कल किये गये हमले में 13 लोग मारे गये . हमले के बाद देश में आपातकाल लागू कर दिया गया और राजधानी के आसपास के क्षेत्रों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गयी है. इस हमले को आत्मघाती हमला माना गया.

शहर की सड़कों पर सेना तथा पुलिस गश्त कर रही है. शहर के स्थान-स्थान पर अवरोध खड़ा कर दिया गया है और आने जाने वाले वाहनों की तलाशी ली जा रही है. कल का विस्फोट इस वर्ष का टयूनीशिया का तीसरा बड़ा हमला था. इससे पहले बोर्डों संग्रहालय पर मार्च में और पर्यटक होटल में हमला किया गया था. दोनों हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली थी.

पुलिस ने कल के हमले में 12 लोगों के मौत की खबर दी थी. कल का राष्ट्रपति के सुरक्षा गार्डों पर हमला अलग तरह का था और इसे राष्ट्र के प्रतीक पर हमले के रूप में देखा जा रहा है.

कल के हमले की जिम्मेदारी अभी तक किसी ग्रुप ने नहीं ली है. राष्ट्रपति आज सुरक्षा परिषद की बैठक बुला रहे हैं. देश में एक महीने के लिए आपातकाल लगाया गया है.

Related Posts: