नवभारत न्यूज उज्जैन,

मालवा की माटी से एक युवा ने अपनी नई सोच के साथ दिव्यांगों की जिंदगी में नई रौशनी लाकर उन्हें प्रगति की राह पर अग्रसर किया है।

अपना स्वीट के संचालक प्रकाश राठौर जिन्हें विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर देश के महामहिम राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने प्रशस्ति-पत्र और मैडल देकर सम्मानित किया।

राठोर ने एक नई पहल की है और अपने सभी प्रतिष्ठानों पर कई दिव्यांग भाई-बहन जिसमें दृष्टिहीन व विकलांग भी शामिल हैं को रोजगार देकर आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में सार्थक कदम उठाया है। समाज के प्रति उनके समर्पण के लिए यह गौरवमयी क्षण का साक्षी आज सम्पूर्ण देश बना है।

Related Posts: