नयी दिल्ली,  भारतीय रिजर्व बैंक लोगों को छोटे नोटों की दिक्कतों और कटे-फटे नोट की समस्या से निपटने के लिए ठोस प्रकार के दो सौ रुपये के नोट आज जारी किए। इसके साथ इसको लेकर लोगोें की जिज्ञासा भी खत्म हो गयी।

नये नोटों के शौकीन इसे पहले हासिल करने के लिये नयी दिल्ली के संसद मार्ग स्थित रिजर्व बैंक के केंद्रीय कार्यालय पर सुबह से लंबी कतारों में खड़े नजर आये। सरकार ने बुधवार को 200 रुपये का नोट प्रचलन में लाने के
लिये अधिसूचना जारी की थी।

इससे पहले मीडिया में इस नोट के लिये काफी दिनों से चर्चा थी। रिजर्व बैंक ने 18 अगस्त को 50 रुपये का नया नोट भी जारी किया है। केंद्रीय बैंक ने 200 रुपये के नोट के प्रचलन के पीछे तर्क दिया है कि लोगों की सुविधा के लिये इसे जारी किया जा रहा है जिससे बड़े नोटों से खुदरा रुपये लेने में आसानी हो सके।

रिजर्व बैंक ने कल इसकी जानकारी देने के साथ ही नये नोट का चित्र भी जारी किया। सरकार ने गत बुधवार को ही जानकारी दी थी कि 200 रुपये का नोट प्रचलन में लाया जा रहा है।

पिछले साल आठ नवंबर को नोटबंदी के बाद सरकार ने पांच सौ और एक हजार रुपये के पुराने नोटों का प्रचलन

बंद किया था। इसके बाद सरकार एक हजार रुपये का नोट नहीं लायी और दो हजार का नोट पहली बार प्रचलन में आया।

फिलहाल प्रचलन में एक,दो, पांच, 10, 20, 50, 100, 500 और दो हजार रुपये के नोट हैं। यह पहला मौका होगा जब सौ और पांच सौ रुपये के नोट के बीच दो सौ रुपये का नोट प्रचलन में आयेगा। नये नोट की खासियत यह होगी कि हल्के पीले रंग के नोट में महात्मा गांधी का चित्र बीच में होगा। इसमें देवनागरी में दो सौ अंकित होगा।

‘आरबीआई’, ‘भारत’, ‘इंडिया’ और ‘200’ छोटे अक्षरों में अंकित होगा।
बारीकी से देखने पर एक छाया दिखेगी जिस पर 200 लिखा होगा। सुरक्षा धागा में ‘भारत’ और आरबीआई लिखा होगा। नोट को हिलाने पर इसका रंग हरा से नीला दिखेगा। महात्मा गांधी के फोटो के दाये किनारे पर गारंटी क्लाज,वायदा क्लाज के साथ रिजर्व बैंक गवर्नर के हस्ताक्षर और केंद्रीय बैंक का प्रतीक चिह्न होगा।

Related Posts: