काम की तलाश के दौरान हुई थी पहचान

भोपाल,

कमला नगर क्षेत्र में एक 17 वर्षीय नाबालिग के साथ अप्राकृतिक योन शोषण का मामला सामने आया है. फरियादी भोपाल नौकरी की तलाश में आया था, जहां पर उसकी पहचान हो गई. तीन महीने तक 80 साल का बुजुर्ग दंपति लगातार शोषण करता रहा.

इसके बाद फरियादी किसी तरह अपने घर पहुंचा और परिजनों को जानकारी दी. देवरी पुलिस से केस डायरी मिलने के बाद कमला नगर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है.

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 80 साल के बुजुर्ग कमला नगर क्षेत्र में रहते हैं. तीन महीने पहले एक नाबालिग काम की तलाश में भोपाल आया हुआ था, जब वह काम तलाश रहा था, तभी उसकी पहचान रिटायर्ड बैंक मैनेजर से हो गई. बुजुर्ग ने नाबालिग को अपने यहां पर ही काम के लिए रख लिया.

फरियादी के मुताबिक तीन माह तक बुजुर्ग उसके साथ अश्लील हरकतें व अप्राकृतिक योन शोषण करता रहा. बताया जा रहा है कि बुजुर्ग ने नाबालिग को गोद भी ले लिया था, लेकिन इसके बाद भी वह हरकतें कर रहा था.

परेशान होकर नाबालिग अपने घर सागर पहुंच गया और फिर परिजनों को घटना की जानकारी दी. बताया जा रहा है कि नाबालिग से अश्लील हरकतों की घटना सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई है. इसके बाद वे थाने पहुंचे और शिकायत दर्ज की.

जान से मारने की धमकी

टीटी नगर थाना अंतर्गत दुष्कर्म पीडि़ता को जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को हिरासत में लिया है. टीटी नगर पुलिस के मुताबिक 17 वर्षीय छात्रा कक्षा 12वीं में पढ़ती हैं.

23वीं बटालियन में पदस्थ एसएएफ जवान के बेटे भूपेन्द्र सिंह के खिलाफ दुष्कर्म का केस नाबालिग ने कमला नगर थाने में दर्ज कराया था, जिसका मामला अदालत में विचाराधीन है. 17 मार्च को जब पीडि़ता कोचिंग से निकली तो आरोपी भूपेन्द्र सिंह का छोटा भाई धर्मेन्द्र सिंह ने धमकी दी कि तुम या तुम्हारे परिवार का कोई भी सदस्य भाई के खिलाफ अदालत में गवाही दी तो तुम्हे जान से मार देंगे.

Related Posts: