mp1विदिशा,  एक स्टाफ नर्स से 2 हजार रूपये की रिश्वत लेते सीएमएचओ कार्यालय में पदस्थ एक महिला क्लर्क को आज लोकायुक्त भोपाल पुलिस की टीम ने छापामार कार्यवाही करते हुये रंगेहाथों पकड़ लिया.

लोकायुक्त पुलिस सूत्रों के अनुसार सिरोंज अस्पताल पदस्थ स्टाफ नर्स जोजी मेथ्यू के सेवाकाल को 10 साल हो गये थे और इसके बाद उन्हें समयमान वेतनमान का लाभ नियमानुसार मिलना था, जिसके लिये उन्होंने करीब 8 माह पहले सीएमएचओ कार्यालय में आवेदन दिया था.
सीएमएचओ कार्यालय के स्थापना नर्सिंग शाखा प्रभारी सहायक गे्रड-2 क्लर्क आरोपी निर्मला वर्मा पहले तो स्टाफ नर्स जोजी मेथ्यू को गुमराह करती रहीं फिर बाद में उन्होंने समयमान वेतनमान का प्रकरण डायरेक्ट्रेट भोपाल भेजने के लिये उनसे 2 हजार रूपये की मांग करना शुरू कर दी.

जिसकी हाल ही में पीडि़त स्टाफ नर्स जोजी मेथ्यू ने 13 अक्टूबर को लोकायुक्त भोपाल पुलिस को शिकायत की, इसके बाद लोकायुक्त पुलिस ने कार्यवाही करते हुये आज दोपहर के समय डीएसपी साधना सिंह के नेतृत्व में छापामार कार्यवाही करते हुये आरोपी महिला क्लर्क को कार्यालय में ही 2 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुये रंगेहाथों धर दबोचा. बताया गया है कि उक्त आरोपी महिला क्लर्क के रिटायरमेंट को करीब 6 माह ही बचे हुये थे और वह रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गईं.

Related Posts: