मुंबई, बैंकों तथा निर्यातकों की डॉलर बिकवाली से आज अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में रुपया दो दिन की गिरावट से उबरने में कामयाब रहा. यह आठ पैसे चढ़कर 66.64 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंच गया.

गत दिवस भारतीय मुद्रा 19 पैसे टूटकर 66.72 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुई थी. दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर में तेजी लौटने से आरंभ में भारतीय मुद्रा पर दबाव रहा. रुपया पांच पैसे लुढ़ककर 66.77 रुपये प्रति डॉलर पर खुला. कारोबार के दौरान और टूटता हुआ यह 66.93 रुपये प्रति डॉलर के दिवस के निचले स्तर तक उतर गया. लेकिन, इसके बाद बाजार में डॉलर की बिकवाली तेज देखी गई. विदेशी संस्थागत निवेशकों ने भी आज शेयरों तथा डेट में 29.52 करोड़ डॉलर का शुद्ध निवेश किया.

इससे रुपये को बल मिला और यह 66.62 रुपये प्रति डॉलर के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद कल के मुकाबले आठ पैसे की मजबूती के साथ 66.64 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ. कारोबारियों ने बताया कि बैंकों की डॉलर बिकवाली से रुपया मजबूत हुआ है. हालाँकि, दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर की तेजी ने इसे ज्यादा नहीं चढऩे दिया.

Related Posts: