वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी फरार

नवभारत न्यूज छतरपुर,

जिले में लंबे अरसे से सक्रिय उच्च राजनैतिक संरक्षण हासिल रेत माफियाओं के गुर्गों ने आज जिले के गोयरा थाना इलाके में स्थिति हनुमान मंदिर के नजदीक एक 22 वर्षीय युवक को बेदर्दी के साथ लात-घूंसों और बंदूकों की बटों से पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया।

वारदात सोमवार सुबह कोई 8 बजे घटी। आरोपियों के हमले में घायल गोयरा गांव निवासी युवक रेनू तिवारी को परिजन मरणासन्न हालत में इलाज के लिए जिला चिकित्सालय छतरपुर लाये जहां मौजूद चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के उपरांत हालत नाजुक होने की वजह से मेडिकल कॉलेज अस्पताल झांसी रिफर कर दिया।

घायल रेनू तिवारी को झांसी ले जाया रहा था लेकिन नौगांव के नजदीक एम्बुलेंस के अंदर उसकी सांसों की डोर टूट गयी। मृतक रेनू के शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया लेकिन शाम ढल जाने की वजह से आज उसके शव का पोस्टमार्टम नहीं हो सका।

मृतक के परिजनों के मुताबिक रेत माफिया के गुर्गे ग्यादीन शुक्ला, राजकिशोर शुक्ला, रामबाबू शुक्ला, बृजेन्द्र शुक्ला, राजेन्द्र शुक्ला और रमन शुक्ला ने रेनू तिवारी की हत्या की वारदात को अंजाम दिया।

Related Posts: