खनिज विभाग के अमले को धमकाकर ले भागे अवैध रेत से भरे आधा दर्जन वाहन

इछावर/ नसरुल्लागंज

मुख्यमंत्री के गृह जिले में दु:साहसी रेत माफिया ने खनिज अधिकारी अशोक सिंघारे, खनिज इंस्पेक्टर शांतिलाल नीनामा सहित आरक्षकों व अमले पर रविवार की अल सुबह नादान घाट पर हमला बोल दिया.
खनिज विभाग का अमला बिना नंबरों वाले अवैध परिवहन कर रहे वाहनों पर कार्रवाई कर रहा था.

इसी दौरान दो दर्जन से अधिक चार पहिया वाहनों से आए खनिज माफिया के गुर्गों ने अमले को घेरकर गाली-गलौच करते हुए पत्थरों से हमला करने की कोशिश की. इसके बाद रेत से भरे पांच-छह अवैध वाहनों को नसरुल्लागंज तरफ लेकर भाग निकले.

जिले में रेत माफियाओं के दु:साहस पर प्रशासन नकेल कसने में कामयाब नहीं हो पाया है. बुलंद हौसलों के साथ रेत माफिया खनिज विभाग के अमले को धमकाने और हमला करने की घटनाओं से बाज नहीं आ रहा है.

इसी तारतम्य में रेत माफियाओं द्वारा रविवार की अल सुबह लगभग चार बजे अवैध रूप से बिना नंबर के रेत के वाहनों को ले जाने की सूचना खनिज विभाग के अमले को मिली. खनिज अधिकारी अशोक सिंघारे अपने साथ खनिज इंस्पेक्टर शांतिलाल नीनामा, होमगार्ड सैनिक कैलाश मेवाड़ा और औंकार सिंह आदि के साथ मौके पर पहुंचे थे.

बताया जाता है कि रेत से भरे बिना नंबर के अवैध पांच-छह ट्रकों को खनिज विभाग के अमले द्वारा पकड़् लिया गया था और यह कार्रवाई कर इछावर थाने तरफ लाया जा रहा था. इसी दौरान खनिज माफिया के तीन दर्जन से अधिक गुर्गे चार पहिया वाहनों से मौके पर पहुंच गए और खनिज विभाग के अमले की घेराबंदी कर दी.

इस दौरान रेत माफिया के सशस्त्र गुर्गों ने खनिज अमले से गाली-गलौच करने के साथ ही हमला करने की कोशिश की. गुर्गों ने पथराव करने के लिए पत्थर भी उठा लिए थे. इस घटनाक्रम से खनिज विभाग के अधिकारी व अमले के सदस्य हतप्रभ रह गए.

खनिज अधिकारी अशोक सिंघारे ने बताया कि इस दौरान खनिज माफियाओं ने धमकाते हुए कहा कि आज तो हमारे ट्रक रोक लिए आज के बाद हमारे ट्रकों को रोकने का प्रयास भी किया तो जान से हाथ धोना पड़ेगा. इसके बाद खनिज माफिया पकड़े गए रेत के अवैध ट्रकों को नसरुल्लागंज तरफ भगा ले गए.

घटना के बाद खनिज अधिकारी ने उच्चधिकारियों ंको सूचना देना चाहा, लेकिन नेटवर्क न होने के कारण सूचना नहीं दे पाए और अधिकारी की गाड़ी को चारो और से रेतमाफियो ने घेर लिया था. अपनी सूझबूझ से खनिज अधिकारी, इंस्पेक्टर और जवान वहां से किसी तरह जान बचाकर निकले और तत्काल अधिकारियों को सूचित किया. इसके बाद इछावर थाने आकर आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई.

इछावर पुलिस ने खनिज विभाग के इंस्पेक्टर शांतिलाल नीनामा की रिपोर्ट पर नसरुल्लागंज के रेत माफिया मुकेश शर्मा, रिंकू परिहार, अंकुर यादव सहित एक दर्जन अन्य लोगों पर धारा 147, 353, 506 के तहत मामला दर्ज किया है. खनिज विभाग ने रेत माफियाओं के दो वाहनों के नंबरों सहित दो जब्त किए मोबाइल भी पुलिस के हवाले किए हैं.

पुलिस मामले में पड़ताल में जुटी हुुई है. खनिज विभाग के अमले को धमकाने का कोई यह पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी दु:साहसी रेत माफिया द्वारा नसरुल्लागंज एसडीएम को कुचलने का प्रयास किया जा चुका है.

इसके अलावा बेखौफ होकर रेत निकालने और उसका अवैध परिवहन करने का खेल खुले आम रेत माफिया द्वारा खेला जा रहा है. जिससे उसके रसूख और प्रभाव का आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है.

Related Posts: