bhopalभोपाल,   मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल के मुख्य स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक एक पर आज निर्माण संबंधी कार्य करने के दौरान दो श्रमिक ओवरहैड इक्विपमेंट (ओएचई) के करंट वाले तार की चपेट में आ गए जिससे दोनों झुलस गए।

पश्चिम मध्य रेलवे के भोपाल मंडल के जनसंपर्क अधिकारी आई ए सिद्धिकी ने बताया कि यह घटना सुबह ग्यारह बजकर पांच मिनट पर हुयी। इस वजह से झुलसे दोनों श्रमिकों को यहां हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों की हालत खतरे के बाहर है। उन्होंने बताया कि फिलहाल श्रमिकों के नाम उनके पास नहीं आए हैं।

इस बीच रेलवे सूत्रों ने बताया कि एक ठेकेदार के श्रमिक प्लेटफार्म पर निर्माण संबंधी कुछ कार्य कर रहे थे। ऐसा प्रतीत होता है कि कार्य के दौरान कोई लापरवाही बरती गयी इसलिए श्रमिक ओएचई की करंट क्षेत्र की परिधि में आ गए। उनका कहना है कि ओएचई में यदि करंट का प्रवाह रोके बगैर काम किया जाए तो तार के दो मीटर क्षेत्र में पहुंचने वाले व्यक्ति को नुकसान होने से नहीं बचाया जा सकता है। फिलहाल रेल प्रशासन इस मामले की पडताल कर रहा है।

Related Posts: