pic3बलिया, यूपी के बलिया में छपरा-बलिया रेलखंड दोहरीकरण और इलेक्ट्रीफिकेशन का शिलान्यास करने पहुंचे रेल मंत्री सुरेश प्रभु को कांग्रेसियों ने काले झंडे दिखाए. इसके बाद बीजेपी और कांग्रेस के कार्यकर्ता प्लेटफॉर्म पर ही आपस में भिड़ गए. दोनों पक्षों के बीच हाथापाई हुई. बड़ी मुश्किल से स्थिति को संभाला गया.

शिलान्यास के साथ ही रेल मंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी का वादा पूरा कर दिया. रेल मंत्री ने गोरखपुर में पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन सुशासन एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. शिलान्यास कार्यक्रम के दौरान ही कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ता काले झंडे लेकर वहां पहुंच गए. रेल में महंगाई और यात्री सुविधाओं में कमी को लेकर नारे बाजी करने लगे. भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी जवाबी नारेबाजी की. इस पर दोनों में हाथापाई हो गई.

Related Posts:

2005 से पूर्व पिता की हुई मौत तो बेटी को नहीं मिलेगा पैतृक संपत्ति में बराबरी का...
जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद का निधन, राष्ट्रपति ,प्रधानमंत्री...
मोदी पर राहुल का हमला सुषमा, जेटली का पलटवार
होली के मद्देनजर राजधानी में सुरक्षा चाक चौबंद
रिश्वत मामले में दिल्ली पुलिस का एसएचओ सीबीआई की गिरफ्त में
कांग्रेस किसी के खिलाफ नहीं, न्यायालय की स्वतंत्रता चाहती है: सिब्बल