maya_singhभोपाल,  रेलवे स्टेशन, रेल और बस स्टेंड पर बच्चों को स्तनपान करवाने के लिए ‘ब्रेस्ट फीडिंग कार्नर’ स्थापित करने का आग्रह महिला-बाल विकास मंत्री माया सिंह ने रेल मंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु से किया है.

आधिकारिक जानकारी के अनुसार इस संबंध में श्रीमती सिंह की पहल पर मुख्य सचिव अंटोनी डिसा ने रेलवे बोर्ड के चेयरमेन ए.के. मित्तल तथा प्रमुख सचिव महिला-बाल विकास जे.एन. कंसोटिया ने वेस्ट सेंट्रल रेलवे के महाप्रबंधक राकेश चंद्रा एवं प्रमुख सचिव परिवहन को पत्र लिखा है.

श्रीमती सिंह ने रेल मंत्री की लिखे पत्र में बताया कि कुपोषण को समाप्त करने मध्यप्रदेश सरकार विशेष प्रयास कर रही है. नवजात शिशु को कम से कम छह माह तक मां का दूध मिले इसके लिए व्यापक पैमाने पर जागरूकता कार्यक्रम संचालित किये जा रहे हैं. रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड पर एक दिक्कत आती है जब माताओं को अपने बच्चे को स्तनपान के लिए सुविधाजनक स्थान नहीं मिलता. इससे बच्चे लंबे समय तक मां के दूध से वंचित रहते हैं.

श्रीमती सिंह ने रेल मंत्री से आग्रह किया कि रेलवे स्टेशन और ट्रेन में ‘ब्रेस्ट फीडिंग कार्नर’ स्थापित किये जायें ताकि बच्चों को समय पर और सुविधाजनक वातावरण में मां का दूध मिल सके. प्रमुख सचिव महिला-बाल विकास जे.एन. कंसोटिया ने प्रमुख सचिव परिवहन को बस स्टैंडों में भी ‘ब्रेस्ट फीडिंग कार्नरÓ स्थापित करने के संबंध में पत्र लिखा है.

Related Posts: