spo1राजकोट,  आठ साल तक एक साथ खेलने के बाद महेंद्र सिंह धोनी और सुरेश रैना कप्तानों के रुप में जब आमने-सामने हुये तो उनके बीच की पहली जंग रैना ने जीत ली. रैना की टीम गुजरात लायंस ने धोनी की टीम राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स को गुरुवार को आईपीएल नौ मुकाबले में सात विकेट से हरा दिया.

गुजरात लायंस की यह लगातार दूसरी जीत है जबकि पुणे की दो मैचों में पहली हार है. पुणे पांच विकेट पर 163 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन गुजरात ने 18 ओवर में तीन विकेट पर 164 रन बनाकर मुकाबला जीत लिया.
ओपनरों आरोन फिंच (50) और ब्रैंडन मैकुलम (49) ने पहले विकेट के लिये 8.3 ओवर में 85 रन जोड़ कर गुजरात को ठोस शुरुआत दी. फिंच ने 36 गेंदों पर अपने अर्धशतक में सात चौके और दो छक्के लगाये जबकि मैकुलम ने 31 गेंदों में तीन चौके और तीन छक्के उड़ाये. फिंच का विकेट 85 और मैकुलम का विकेट 120 के स्कोर पर गिरा.

कप्तान सुरेश रैना 24 गेंदों में 24 रन बनाकर धोनी के हाथों स्टंप्स आउट हुये. रैना का विकेट 147 के स्कोर पर गिरा लेकिन तब तक गुजरात जीत के करीब पहुंच चुका था. ड्वेन ब्रावो (नाबाद 22) और रवीन्द्र जडेजा (नाबाद 4 ) ने गुजरात को 12 गेंद शेष रहते जीत दिला दी. ब्रावो ने 10 गेंदों की अपनी पारी में तीन चौके और एक छक्का लगाया. ब्रावो ने छक्का मारकर स्कोर बराबर किया और गुजरात को वाइड गेंद पर जीत मिल गयी. इससे पहले ओपनर फाफ डू प्लेसिस (69) के अर्धशतक,केविन पीटरसन के 37 और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नाबाद 22 रन की बदौलत राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स ने पांच विकेट पर 163 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया लेकिन पुणे के गेंदबाज इसका बचाव नहीं कर पाये.
कप्तान धोनी ने मैच के बाद स्वीकार किया कि उनके तेज गेंदबाजों ने अच्छी गेंदबाजी नहीं की. डू प्लेसिस ने 43 गेंदों पर 69 रन में पांच चौके और चार छक्के लगाये.

उन्होंने पीटरसन के साथ दूसरे विकेट के लिये 10.1 ओवर में 86 रन की साझेदारी की. पीटरसन ने 31 गेंदों पर 37 रन में दो चौके और एक छक्का लगाया. कप्तान धोनी ने आखिरी ओवर में दो चौके और एक छक्का उड़ाते हुये 20 रन बटोरे जिससे पुणे का स्कोर 163 रन पहुंच गया.

Related Posts: