lalit modiमुंबई, 7 जुलाई. ललित मोदी को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को एक बार फिर से समन भेजा है. इस बार यह समन ललित के ई-मेल पर भेजा गया है. जबकि इससे पहले ललित मोदी के लीगल फर्म ने समन को यह कहते हुए वापस कर दिया था कि वह इसके लिए अधिकृत नहीं है. ईडी की ओर से ललित मोदी को यह समन मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत भेजे गए हैं.

मामले में जांच अधिकारी ने बताया कि ललित मोदी को 20 जुलाई को 11 बजे दिन में कुछ कागजात के साथ पेश होने के लिए कहा गया है. इस पेशी के दौरान ललित मोदी से जो कागजात मांगे गए हैं, उनमें उनके और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा भारत और विदेश में इस्तेमाल किए जा रहे बैंक खातों का ब्योरा, चल-अचल संपत्ति की ब्योरा और उन सभी कंपनियों और फर्म की सूची मांगी गई है. , जिसमें उनका या उनके परिवार के किसी सदस्य की हिस्सेदारी है.

ललित मोदी से ईडी ने कुल 13 तरह के कागजात के साथ पेश होने को कहा है. इससे पहले 6 जुलाई 2015 को ललित मोदी ने ट्वीट कर कहा था कि उन्हें कोई समन नहीं मिला है. जबकि उसी शाम ललित के वकील महमूद आब्दी ने भी कहा था कि ईडी की ओर से समन भेजे जाने की बात बेबुनियाद है.

Related Posts:

नेताओं के कहने पर भंवरी की हत्या
भरत के साथ सगाई करेंगी ऐशा देओल
भारत ने राष्ट्रमंडल भारोत्तोलन के पहले दिन 11 स्वर्ण जीते
'एक दिन बुर्का न पहनने से विलुप्त नहीं होगी आस्था
राजग में सीटों का बंटवारा: भाजपा 160, मांझी 20 सीट पर लडेंग़े
दिल्ली के मुख्यमंत्री-उपराज्यपाल अधिकार मामले में सुनवाई पांच दिसम्बर तक स्थगित