17kk13मेलबोर्न, 17 मार्च. आस्ट्रेलियाई आलराउंडर शेन वाटसन गूप चरण के मुकाबले में अफगानिस्तान के खिलाफ मैच से पहले टीम से बाहर होने के बाद फिर से मिले दूसरे मौके का पूरा फायदा उठाना चाहते है.

रन बनाने के लिए जूूझ रहे वाटसन को अफगानिस्तान के खिलाफ मैच से पहले अंतिम एकादश से हटा दिया गया था लेकिन श्रीलंका के खिलाफ मैच के लिए उन्हें आश्चर्यजनक तरीके से फिर से टीम में शामिल किया गया. एससीजी में वाटसन ने तीसरे नंबर के बजाय मध्य क्रम में भेजे जाने के बावजूद 67 रन बनाए.

वाटसन ने मंगलवार को कहा कि अफगानिस्तान के खिलाफ मैच से बाहर किए जाने के बाद मैं पूरे टूर्नामेंट में फिर से खेलने की उम्मीद नहीं कर रहा था. चयनकर्ता रॉड मार्श ने उस समय अपने इरादे स्पष्ट कर दिए थे. यह अविश्वसनीय तरह से निराशाजनक था. यह सच में दिल तोडऩे वाला था. लगातार चोटिल होने और रन न बना पाने के कारण टीम में वाटसन के बने रहने को लेकर लंबे समय से सवाल उठते रहे है. हालांकि 33 वर्षीय यह खिलाड़ी एक बार फिर विश्वकप में किफायती साबित हुआ. वाटसन ने 40.23 के औसत से बल्लेबाजी और 31.45 के औसत से गेंदबाजी की. वाटसन को स्काटलैंड के खिलाफ तीसरे नंबर पर भेजा गया हालांकि तब आस्ट्रेलिया को सिर्फ 130 रनों के लक्ष्य का पीछा करना था. वाटसन ने कहा कि टीम से बाहर होने के बाद उन्होंने मानसिक समन्वय बनाया. उन्होंने कहा कि मैं जानता था कि टीम से बाहर होना आने वाले कुछ वर्षों में मेरे लिए अच्छा होगा क्योंकि मैं फिर कभी ऐसा महसूस नहीं करना चाहूंगा.

Related Posts: