pic3भोपाल, .केन्द्रीय मंत्री अनंत कुमार ने भाजपा प्रदेश कार्यालय पं.दीनदयाल परिसर आज पं. दीनदयाल उपाध्याय जयंती के अवसर पर शताब्दी वर्ष की शुरूआत विचारोत्तेजक परिसंवाद के रूप में हुई.परिसंवाद की अध्यक्षता करते हुए पं. दीनदयाल उपाध्याय के एकात्म मानवदर्शन को लोक जनदर्र्शन बनानें का आग्रह करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश सरकार इस दिशा में साहित्य प्रकाशन और जीवन दर्शन के प्रचार-प्रसार, विस्तार की व्यवस्था करेगी.

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एकात्म मानवदर्शन पर प्रकाश डालते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान की अनेक अवसरों पर प्रशंसा की और उन्होनें माना है कि शिवराज सिंह चैहान एकात्म मानवदर्शन के हृदयग्राही मर्मज्ञ व्याख्याकार है.

उन्होनें कहा कि मप्र सरकार ने पं. दीनदयाल उपाध्याय शताब्दी वर्ष और शताब्दी वर्ष को गरीब कल्याण वर्ष के रूप में मनानें का संकल्प करके देश के समक्ष अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है, जिसका दूरगामी परिणाम होगा.
भाजपा राष्ट्रवादी और क्रांग्रेस अवसरवादी दल

अनंत कुमार ने एकात्म मानवदर्शन के राष्ट्रवाद केन्द्रित पक्ष पर चर्चा करते हुए कहा कि मोटे तौर पर वादों में राष्ट्र्रवाद, साम्यवाद, समाजवाद और अवसरवाद जैसे वाद ही माने जाते है.विचारधारा के आधार पर भाजपा”राष्ट्रवादी” और कांग्रेस एक ”अवसरवादी” दल है.हम राष्ट्रवाद के वारिस है और भाजपा का दृष्टिकोण व्यापक है, उसके लिए राष्ट्र सर्वोपरि है.

साम्यवाद, अलगववाद, उग्रवाद, हिंसावाद में परिणित होकर क्लेश का कारण बन चुका है.अवसरवाद की बानगी कांग्रेस कही जा सकती है, जहां व्यक्तिवाद, भ्रष्टाचार और लोकतंत्र के क्षरण के लिए सारे उपाय और साजिशें जनता के सामने है.राष्ट्रवाद व्यक्ति का निर्माण करता है.

Related Posts: