dg vanzaraवंजारा ने आरोप लगाया है कि जिन ऑफिसर्स पर फर्जी मुठभेड़ के आरोप लगे थे और जो जमानत पर रिहा किए गए हैं, उनके साथ भेदभाव किया जा रहा है। उन्होंने खुद के लिए और बाकी ऑफिसर्स के लिए (जिनसे भेदभाव हुआ है) प्रमोशन की मांग भी की है।

अहमदाबाद, 8 मई. रिटायर्ड आईपीएस ऑफिसर डीजी वंजारा ने आईपीएस ऑफिसर्स के प्रमोशन और उन्हें फिर से बहाल किए जाने को लेकर सवाल उठाए हैं । उन्होंने इस बारे में अडीशनल चीफ सेक्रटरी (होम) जीआर अलोरिया को चि_ी लिखी है।वंजारा तीन फर्जी मुठभेड़ों (इशरत जहां, तुलसीराम प्रजापति और सोहराबुद्दीन) मामले में जेल गए थे। उन्होंने आठ साल जेल में बिताए और फरवरी 2015 में जेल से बाहर आए। इस समय वह मुंबई में रह रहे हैं।

Related Posts: