11cpr1वन्य-प्राणियों और उनके रहवास को बचाने संकल्पित है सरकार,  
राज्य वन्य-प्राणी संरक्षण बोर्ड की बैठक में मुख्यमंत्री, 
भोपाल,11 अगस्त,नभासं. ख्याति प्राप्त वन्य-जीव विशेषज्ञों ने मध्य प्रदेश में वन्य-जीव संरक्षण, विशेष रूप से बाघों, गिद्धों और बारहसिंगा के संरक्षण कार्य में मिली सफलता की सराहना की है.

आज यहाँ मंत्रालय में मध्यप्रदेश राज्य वन्य-प्राणी संरक्षण बोर्ड की बैठक में भाग लेने आये वन्य-जीव विशेषज्ञों और बोर्ड के सदस्यों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व और वन्य-जीव संरक्षण के प्रति उनकी प्रतिबद्धता की भी सराहना की. मुख्यमंत्री ने कहा कि वनवासी परिवारों की आजीविका भी वन्य-जीव संरक्षण के साथ-साथ जरूरी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि बेहतर वन्य-जीव प्रबंधन से वन्य-जीवों के परिवारों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है. ऐसे में उनके रहवास का दायरा बढ़ाने के लिए नियोजन की अग्रिम रणनीति बनाना होगा. वन्य-जीवों और उनके रहवास को बचाने के लिए सरकार पूरी तरह समर्पित है. उन्होंने कहा कि वन्य-जीव संरक्षण विशेषज्ञों के विचारों और सुझावों को नीति निर्देशों में शामिल किया जायेगा.

Related Posts: