अलीगढ़,

जम्मू-कश्मीर के रहने वाले लापता अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के छात्र मन्नान वानी के रूममेट के बारे में बड़ा खुलासा हुआ है.

बताया जा रहा है कि मन्नान वानी के रूममेट मुजम्मिल हुसैन लापता नहीं बल्कि जिऑलजिकल सर्वे ऑफ इंडिया में क्लॉस वन ऑफिसर हैं. वह इन दिनों महाराष्ट्र में तैनात हैं. एएमयू प्रशासन ने भी इस तथ्य की पुष्टि की है. सूत्रों ने बताया कि जिऑलजिकल सर्वे ऑफ इंडिया में चयन के बाद मुजम्मिल ने नौकरी जॉइन कर लिया था. इसीलिए जुलाई 2017 से वह हॉस्टल में नहीं रहे.

मुजम्मिल हुसैन जम्मू-कश्मीर के बारामूला के रहने वाले हैं. उधर हिज्बुल के सरगना सलाहुद्दीन ने दावा किया है कि वानी संगठन में शामिल हो गया है.

मदरसों को आतंकवादी फंडिंग

लखनऊ. उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने पीएम मोदी को पत्र में लिखा है कि ज्यादातर मदरसे जकात के पैसे से चल रहे हैं जो भारत, बांग्लादेश और पाकिस्तान जैसे देशों से आ रहे हैं. कुछ आतंकवादी संगठन भी अवैध रूप से चल रहे मदरसों को फंडिंग कर रहे हैं.

मुस्लिम इलाकों में ज्यादातर मदरसे सऊदी अर ब के भेजे धन से चल रहे हैं. इसकी जांच की जानी चाहिए. शिमुली और लालगोला मुर्शिदाबाद में महिलाओं को बम बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है. वसीम ने कहा है कि कुछ संगठन और कट्टरपंथी मुस्लिम बच्चों को सिर्फ मदरसे की शिक्षा देकर उन्हें सामान्य शिक्षा की मुख्यधारा से दूर कर रहे हैं.

मदरसों में जो बच्चे शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं, उनकी शिक्षा का स्तर निचली सतह का है. ऐसे बच्चे सर्व समाज से दूर होकर कट्टरपंथ की तरफ बढ़ रहे हैं. ऐसे में मदरसों को खत्म करने की जरूरत है और उसकी जगह सामान्य शिक्षा नीति बनाई जाए.

Related Posts: