pankajवाराणसी,  उत्तर प्रदेश के वाराणसी में राजघाट पुल पर मची भगदड़ में 25 लोगों की मृत्यु के तीसरे दिन आज रामनगर क्षेत्र के डुमरी कटेसर स्थित “जय गुरु देव” समागम स्थल से पंकज महाराज अपने काफिले के साथ मथुरा के लिए रवाना हो गए। बाबा जय गुरु देव के उत्तराधिकारी माने जाने वाले पंकज महाराज के अपने सैकड़ों अनुयायियों के साथ रवाना होने के साथ ही वाराणसी जिला प्रशासन ने राहत की सांस ली।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि स्थिति सामान्य है और समागम स्थल से “जय गुरु देव” के अनुयायियों के अपने घरों की ओर लौटने का सिलसिला आज भी जारी है। अधिकांश लोग यहां से चले गए हैं। उन्होंने बताया कि पंकज महाराज को बाबा जय गुरु देव का उत्तराधिकारी माना जाता है, जो समागम के मुख्य आयोजक थे। उन्होंने बताया कि उनके यहां से जाने के दौरान किसी प्रकार का विवाद नहीं हुआ और वे अपने अनुयायियों के साथ मथुरा रवाना हो गए।

Related Posts: