5cpr3भोपाल,5 अगस्त.राज्यपाल राम नरेश यादव ने कहा कि शिक्षण संस्थान और शिक्षक विद्यार्थियों की क्षमता और कौशल के समुचित विकास पर ध्यान केन्द्रित करें.यादव राजभवन में टेलेंट हंट-2015 प्रतियोगिता के विजेताओं को पुरस्कार वितरित कर रहे थे.

राज्यपाल ने कहा कि छात्र-छात्राएँ परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद संतुष्ट होकर नहीं बैठें.हर दिन और हर समय सीखते रहने का संकल्प लें और इन अवसरों का लाभ उठाते हुए परीक्षा में अच्छे से अच्छा प्रदर्शन करने का प्रयास करें.राज्यपाल यादव ने इस अवसर पर पूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम का उल्लेख करते हुए कहा कि उनका जीवन आने वाली पीडिय़ों तक के लिए प्रेरणा-स्रोत रहेगा.स्वर्गीय डा. कलाम ने भारत के विकास स्तर को 2020 तक विज्ञान के क्षेत्र में अत्याधुनिक करने के लिए एक विशिष्ट सोच प्रदान की.हमें उनके इस सपने को साकार करने का प्रयास करना है.कार्यक्रम पटेल गु्रप ऑफ इन्स्टीटयूशंस द्वारा किया गया था.

Related Posts:

मधु कोड़ा को 1200 करोड़ रुपए का टैक्स नोटिस
संयुक्त राष्ट्र महासचिव से मिले मोदी, पुस्तक भी भेंट की
माय बस सेवा शुरू : बरखेड़ा पठानी निवासियों का शहर आवागमन हुआ आसान
हिंसा और भ्रष्टाचार की राजनीति बंद हो : मोदी
चाय की दुकान को लेकर परिषद की बैठक में हंगामा
एनसीसी कैडेट स्वच्छता और डिजिटल अर्थव्यवस्था के अग्रदूत बनें : मोदी