arunवित्तमंत्री अरुण जेटली ने राज्यसभा में आज एक बार फिर विधायिका के अधिकारों पर अतिक्रमण का मुद्दा उठाते हुए संसद की सर्वोच्चता बरकरार रखने की अपील की और कहा कि यदि उसे कानून और बजट बनाने का अधिकार छीन लिया जायेगा तो लोकतंत्र कमजोर हो जायेगा।

सभी संस्थाओं को इस बात पर गंभीरता से विचार करना चाहिए। जेटली ने राज्यसभा में वित्त विधेयक पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए भी संसद की सर्वोच्चता का मुद्दा उठाया था। उन्होंने कहा था कि जिस तरह से विधायिका के अधिकारों का अतिक्रमण किया जा रहा है, उससे लगता है संसद के पास बजट बनाने का ही अधिकार रह जायेगा.

Related Posts: