मुंबई,

नये ऑर्डरों और उत्पादन में तेज बढ़ोतरी के दम पर देश के विनिर्माण क्षेत्र ने गत दिसंबर में तेज उड़ान भरी और इसका निक्कई पीएमआई सूचकांक नवंबर के 52.6 से बढ़कर 54.7 पर पहुँच गया।

दिसंबर में उत्पादन वृद्धि की रफ्तार पाँच साल में सबसे तेज रही जबकि नये ऑर्डरों में अक्टूबर 2016 के बाद की सबसे तेज बढ़ोतरी दर्ज की गयी।कंपनियों ने नये रोजगार भी दिये और रोजगार वृद्धि दर अगस्त 2012 के बाद के उच्चतम स्तर पर रही।उत्पादों के दाम भी दिसंबर में तेजी से बढ़े।इनकी औसत मूल्य वृद्धि फरवरी 2017 के बाद सबसे ज्यादा रही।

Related Posts: