nitishनई दिल्ली, नससे. विपक्ष ने सुरेश प्रभु द्वारा पेश रेल बजट को निराशाजनक बताया है. कांग्रेस नेता और पूर्व रेल मंत्री पवन बंसल ने कहा कि इस रेल बजट से उन्हें निराशा हुई है. उन्होंने कहा कि सरकार यह कह कर अपना पीठ थपाना चाह रही है कि रेल भाड़े में कोई वृद्धि नहीं की गई है लेकिन यह कहकर आम जनता से धोखा किया जा रहा है. जब हमने रेल बजट पेश किया था उस समय अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की जो कीमत थी अब आधी रह गई है. इसे देखते हुए रेल भाड़े में कमी की जानी चाहिए थी.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा-उम्मीद थी यात्री किराए कम होंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं. पूर्व रेल मंत्री मल्लिकार्जुन खडग़े का कहना है कि यह पूरी तरह से ड्रीम बजट है. जो प्रैक्टिकली लागू करना नामुमकिन है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और पूर्व रेल मंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि सरकार जनता को मूर्ख बना रही है.

पूर्व रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी ने भी रेल बजट को निराशाजनक बताते हुए कहा कि इस बजट में कुछ है ही नहीं. जो कुछ सुविधा देने की बात कही गई है उसमें नया कुछ भी नहीं है. कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने बजट पर सवाल उठाया कि रेलवे के आधुनिकीकरण के लिए फंड कहां से आएगा. कांग्रेस के राजीव शुक्ला ने बजट की आलोचना करते हुए इसे निराशाजनक बताया है. उक्त नेताओं का कहना है कि इसमें जो घोषणाएं हुई है उसपर भी कोई अमल नहीं होने वाला. वहीं, बसपा प्रमुख और उत्तर प्रदेश की पूर्व सीएम मायावती ने रेल बजट को आंखों में धूल झोंकने वाला बताया है.

Related Posts: