dhoniनई दिल्ली,  भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी किसी सीरीज और टूर्नामेंट को जीतने के बाद एक स्टंप उखाड़कर उसका जश्न मनाते हैं और भारत की मेजबानी में मार्च में होने वाले ट्वंटी 20 विश्वकप के लिये भी उन्होंने इसी तरह स्टंप्स उखाडऩे की उम्मीद जताई है.

धोनी ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में लाइफ स्टाइल ब्रांड सेवन को लांच करने के बाद कहा आमतौर पर मैं कोई सीरीज या टूर्नामेंट जीतने के बाद स्टंप्स उखाड़ता हूं. उम्मीद करता हूं कि इस बार विश्वकप में भी आप मुझे स्टंप्स निकालते हुये देखेंगे. सीमित ओवरों के भारतीय कप्तान ने मुस्कुराते हुये कहा मेरे पास स्टंप्स का एक बड़ा कलेक्शन हो गया है जो भविष्य में समय गुजारने के काम आएगा. मैं कभी किसी स्टंप पर तारीख नहीं लिखता हूं लेकिन 10-20 साल बाद जाकर जब मैं अपने मैचों का वीडियो देखूंगा कि कौन सा स्टंप किस मैच का है.

धोनी ने आठ मार्च से शुरू होने वाले विश्वकप में आक्रामक क्रिकेट खेलने का वादा करते हुये कहा आक्रामकता के साथ कोई समझौता नहीं होगा. हम एशिया कप और विश्वकप में इसी ब्रांड की क्रिकेट खेलेंगे. उन्होंने विश्वकप के लिये चुनी भारतीय टीम को संतुलित बताते हुये कहा कि इसमें ऐसे खिलाडिय़ों का चयन किया गया है जो टूर्नामेंट के दौरान चोट की परिस्थितियों में किसी दूसरे खिलाड़ी की बखूबी जगह ले सकेंगे.

ट्वंटी 20 विश्वकप के लिये भारतीय गेंदबाजी को संतुलित बताते हुये धोनी ने कहा कि टीम में ऐसे गेंदबाज हैं जो पहले पावर प्ले में अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं और डैथ ओवरों में भी विपक्षी बल्लेबाजी पर अंकुश लगा सकते हैं. उन्होंने कहा छोटे फार्मेट में यह होता है कि आप यदि बल्लेबाज पर दबाव बनाते हैं तो वह रन बनाने की हड़बड़ाहट में अपने विकेट गंवा देता है. हमें विश्वकप में इसी तरह का प्रदर्शन करना होगा.

धोनी सेवन ब्रांड के ग्लोबल एम्बेसेडर बने हैं और इस ब्रांड को उनके मित्र अरूण पांडे की कंपनी रीति ग्रुप ने लांच किया है. इस ब्रांड स्टाइल का नाम सेवन रखे जाने के पीछे पांडे ने कहा सेवन एम एस का जर्सी नंबर भी है और यह कई लोगों के लिये भाग्यशाली अंक भी होता है इसलिये हमने इस नंबर को चुना.

Related Posts: