20kk2नई दिल्ली, 20 अगस्त. विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में हारने के बावजूद भारत की सायना नेहवाल गुरुवार को जारी हुई विश्व बैडमिंटन रैंकिंग में फिर से विश्व की नंबर एक महिला खिलाड़ी बन गईं.

सायना को गत रविवार को जकार्ता में विश्व चैंपियनशिप के फाइनल में स्पेन की कैरोलिना मारिन के हाथों लगातार गेमों में हार का सामना करना पड़ा था, लेकिन दिलचस्प है कि सायना हारने के बावजूद विजेता खिलाड़ी को पछाड़ फिर से शीर्ष पर पहुंच गई हैं.

पहली बार विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक हासिल कर इतिहास रचने वाली देश की स्टार खिलाड़ी सायना 82792 रेटिंग अंक हासिल कर रैंकिंग में नंबर एक पर पहुंच गईं जबकि लगातार दूसरी बार विश्व चैंपियन का खिताब जीतने वाली मारिन इस जीत के बावजूद अपने 80612 अंकों को ही बरकरार रख पाई हैं. मारिन को गत चैंपियन होने के कारण एक भी अंक का फायदा नहीं हुआ है.

गत वर्ष क्वार्टर फाइनल में हारने वाली सायना को इस वर्ष फाइनल में पहुंचने से 3600 अंकों का फायदा मिला है, जिससे उनके अंकों की संख्या 82792 पहुंच गई. सायना इस वर्ष दो अप्रैल को पहली बार विश्व की नंबर एक खिलाड़ी बनी थीं और उसके बाद वह नंबर एक पर कुल पांच सप्ताह रही थीं. उनसे नंबर एक का स्थान 28 मई को छिना था. वह चार जून को तीसरे स्थान पर खिसकी थीं, लेकिन 11 जून से नंबर दो पर चली आ रही थीं. हालांकि दो बार की कांस्य पदक विजेता और चैंपियनशिप में क्वार्टर फाइनल तक पहुंची सिंधू (45690) को एक स्थान का नुकसान उठाना पड़ा है और वह विश्व की 14वीं रैंक खिलाड़ी बन गई हैं. महिला एकल रैंकिंग में चीनी ताइपे की ताई जू यिंग 70020 अंकों के साथ एक स्थान उठकर तीसरे स्थान पर जबकि विश्व चैंपियनशिप में भारत की पीवी सिंधू के हाथों उलटफेर का शिकार हुई ओलंपिक पदक विजेता चीन की ली जुईरूई एक स्थान के नुकसान के साथ 69887 अंकों के साथ चौथे स्थान पर खिसक गई हैं. थाईलैंड की इंतानोन रत्चानोक 69687 अंकों के साथ अपने पांचवें स्थान पर बरकरार हैं.

Related Posts: