16jaitleyनई दिल्ली, 16 जून. आखिर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने सुषमा स्वराज पर चुप्पी तोड़ी और कहा कि सुषमा स्वराज ने जो किया, वो बिल्कुल सही किया. ये सामूहिक फैसला है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पत्रकारों से बातचीत में सुषमा स्वराज के फैसले को सही ठहराते हुए कहा कि विदेश मंत्री ने जो भी फैसला लिया, वह सही नीयत से लिया था. उन पर लगे सभी आरोप बेबुनियाद हैं. फैसले पर सरकार की सामूहिक जिम्मेदारी है और सुषमा स्वराज इस निर्णय पर अकेली नहीं हैं.

इससे पहले कीर्ति आज़ाद का उछाला हुआ सवाल अरुण जेटली से पूछ ही लिया गया. ये आस्तीन का सांप कौन है? जेटली ने इसे नजऱअंदाज़ किया, लेकिन ललित मोदी पर सुषमा स्वराज के फैसले के बचाव में कोई कसर नहीं छोड़ी. अरुण जेटली ने कहा सुषमा ने कुछ गलत नहीं किया है, जो फैसला उन्होंने लिया वो सरकार का फैसला है. और साथ में ये भी की विवाद आधारहीन है. वैसे इस प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले राजनाथ सिंह, सुषमा स्वराज और अरुण जेटली की लंबी बैठक भी चली. राजनाथ ने कहा कि सुषमा स्वराज का फ़ैसला हितों के टकराव का मामला नहीं है. जेटली ने आगे कहा, पार्टी अध्यक्ष पहले ही कह चुके हैं कि सभी आरोप निराधार हैं. सरकार और पूरी पार्टी उनके साथ है. उन्होंने कहा, ललित मोदी को 16 में से 15 केसों में नोटिस जारी किया गया है और मोदी के खिलाफ सभी नोटिस कायम हैं.

Related Posts: