इंडियन वेल्स,

अमेरिका की वीनस विलियम्स ने विजयी लय को आगे बढ़ाते हुये 17 वर्षों में पहली बार इंडियन वेल्स टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है जहां उनका सामना रूस की डारिया कसात्किना से होगा।

वीनस ने स्पेन की कार्ला सुआरेज़ नवारो को महिला क्वार्टरफाइनल में 6-3 6-2 से पराजित किया।
अमेरिकी खिलाड़ी अब कसात्किना से मुकाबले के लिये उतरेंगी जिन्होंने एंजेलिक केर्बर को 6-0 6-2 से हराया।

सुआरेज़ की वीनस के खिलाफ यह लगातार चौथी शिकस्त है और वह मैच में सात में से केवल एक बार ही अमेरिकी खिलाड़ी की सर्विस ब्रेक कर सकीं।यह 17 वर्षाें में पहला मौका है जब वीनस इंडियन वेल्स के सेमीफाइनल में पहुंची हैं।वर्ष 2001 में सेमीफाइनल में अपनी बहन सेरेना के साथ मैच से पहले ही वीनस टूर्नामेंट से हट गयी थीं जबकि नस्लीय टिप्पणी से नाराज़ होकर वर्ष 2002 और 2015 में उन्होंने टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लिया था।

वीनस ने मैच के बाद कहा“ मैं जब 16 साल की थी तब मैं यहां आयी थी और जीतने के करीब पहुंची थी।अब यहां दोबारा आकर मुझे अच्छा लग रहा है और यह मेरे लिये सपने के पूरा होने जैसा है।मैं महसूस कर सकती हूं जिस तरह से यहां लोग मेरा समर्थन कर रहे थे।मैं उनका प्यार महसूस कर सकती हूं।”

37 वर्षीय वीनस 20 साल की रूसी खिलाड़ी से भिड़ेंगी जिन्होंने एक घंटे से भी कम समय में पूर्व नंबर वन केर्बर को हराया।कसात्किना ने छह में से पांच ब्रेक अंकों को भुनाते हुये अासान जीत दर्ज की।उन्होंने इससे पहले यूएस ओपन चैंपियन स्लोएन स्टीफंस और दूसरी रैंक कैरोलीना वोज्नियाकी को भी हराया था और अमेरिकी खिलाड़ी के खिलाफ बड़ी चुनौती मानी जा रही हैं।