फ्रेंड्स ऑफ एमपी सम्मेलन में चौहान

नवभारत न्यूज इंदौर,

फ्रेंड्स ऑफ एमपी कार्यक्रम में अमेरिका से आए एनआरआई को सुपरकॉरिडोर घुमाऊंगा और उनसे पूछंगा कि हमारी यहां कि सड़कें वाशिंगटन से बेहतर है या नहीं. यहीं नहीं अब तो स्वच्छता के मामले में भी इंदौर वाशिंगटन से बेहतर हैं.

यह बात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज पत्रकार से चर्चा करते हुए कही. वे फ्रेंड्स ऑफ एमपी सम्मेलन में शामिल होने आए थे. कार्यक्रम के विषय में चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि फ्रेंड्स ऑफ एमपी मप्र के लिए मित्र मंच बनाया है. इसे बनाने की कल्पना इसलिए आई कि प्रदेश के जो लोग बाहर जाकर सफल हो रहे है उन्हें प्रदेश से जोडऩे के लिए कोई मंच नहीं था. फरवरी 2015 में इसकी स्थापना न्यूयार्क में की गई थी.

न्यूयार्क और यूएई में इसके दो कार्यक्रम हो चुके हैं. वहां रहने वाले चाहते थे कि यह कार्यक्रम मध्यप्रदेश में भी हो इसलिए यह कार्यक्रम इंदौर में आयोजित किया गया है. कार्यक्रम में अमेरिका के 120, ब्रिेटन के 51, यूएई के 22, सिंगापुर, हांगकांग और अन्य स्थानों को मिलाकर कुल 300 एनआरआई इस कार्यक्रम में भाग ले रहे है.

एजूकेशन, हेल्थ और आईटी पर फोकस

श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश तेजी से बढ़ता हुआ प्रदेश है. हम चाहते हैं प्रदेश के एनआरआई को जोड़कर प्रदेश के विकास में योगदान दें. यह निवेश का मंच नहीं है. हम उन्हें विकास में योगदान देने के लिए जोडऩा चाहते हैं. ये सभी मध्यप्रदेश से प्यार होने के कारण जुड़ रहे हैं. यहां वे आए भी स्वयं के खर्चे से ही हैं. हम यहां प्रदेश को लेकर उनका विजन और संभावनाओं पर चर्चा करेंगे. विशेषकर एजुकेश, हेल्थ और आईटी पर फोकस रहेगा.

प्रदेश के विकास को तेज करना है

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम उनकी विशेषज्ञता का लाभ उठाकर प्रदेश के विकास को और तेज करना चाहते हैं. हम स्थानीय विशेषताओं जैसे इंदौर का नमकीन, गराडू और अन्य चीजों से जोड़कर प्रदेश का विकास में उनसे मदद लेंगे. उनकी विशेषज्ञका लाभ कैसे उठाएं इसका पूरा प्रयास करेंगे. इंदौर के एमवाय अस्पताल में बोनमेरो ट्रांसप्लांट की सुविधा भी अमेरिका के डॉक्टरों की मदद से ही की जा रही है. उसकी तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है.

Related Posts: