bpl1भोपाल,  दुनिया का वो ही देश सफल हैं जिसकी 70 प्रतिशत आबादी शहरों में रहती हैं. यह कहना है सिलिकॉन वैली चैप्टर कैलिफोर्निया के टीआईए अध्यक्ष व्यंकटेश शुक्ला का.

आईसेक्ट यूनिवर्सिटी द्वारा समन्वय भवन में आयोजित सम्मान समारोह और व्याख्यान में मुख्य वक्ता के रूप में शामिल हुए शुक्ला ने मीडिया से चर्चों करते हुए उन्होंने कहा कि ये बात सच है कि शहरों से ही हमें विकास मिल रहा हैं. इसका उदाहरण हर विकसित देश में देख जा सकता हैं.

जिनको पढ़ाया उन ने दूसरे को पढ़ाया
व्यंकटेश बताते है कि हम ने तय किया कि भारतीय मेधावी किंतु जरूरतमंद बच्चों के हित में हम काम करेंगे. इसके लिए स्कॉलरशिप प्रोग्राम को शुरू किया गया. इस में ठेला चलाने वालों से लेकर लोगों के घर में काम करने वाले लोगों के बच्चों को स्कॉलरशिप दी जाने लगी. अभी तक 12 हजार बच्चों को मेडिकल और इंजीनियरिंग करने के लिए मदद मिल चुकी हैं. इस कार्यक्रम की सबसे अच्छी बात ये है कि जिन बच्चों का ेस्कॉलरशिप दी गई थी. बाद में उन्होंने इसमें सहयोग किया और स्कॉलरशिप में 48 लाख रूपयों का योगदान भी उन ही बच्चों से आया हैं.
सम्मान एवं व्याख्यान समारोह
इस मौके पर व्यंकटेश शुक्ला का सम्मान भी किया गया. उन्होंने स्टूडेंटस को अपने विचार रखते हुए कहा कि ये समय देश के लिए गोल्डन टाइम हैं. जिसमें आईटी क्षेत्र में काफी तेजी से विकास हो रहा हैं. दुनिया की 10 प्रमुख कंपनियों में से 5 के सीइओं भारतीय हैं. शुक्ला ने इस मौके पर बच्चों को प्रश्नों के उत्तर भी दियें. वहीं कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे सूचना प्रोद्योगिकी एवं परिवहन मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रदेश में इस में आईटी के क्षेत्र में बहुत तेजी से विकास हुआ हैं. एक कंपनी प्रदेश में करीब 6 हजार करोड़ का निवेश करने जा रही हैं. साथ ही इंद्रौर आईटी के क्षेत्र में काम करने वाले शहरों में प्रमुख स्थान रखता हैं.