JVD_4249भोपाल,8 जुलाई,नभासं. भाजपा उपाध्यक्ष श्याम जाजू ने व्यापमं घोटाले की सीबीआई जांच के बारे में उच्च न्यायालय से अनुरोध करने के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के फैसले की प्रशंसा करते हुए कहा कि इससे सरकार की पारदर्शिता साबित होगी.

वे संवाददाताओं से चर्चा कर रहे थे. उन्होंने कहा कि विशेष कार्य बल पूरे घोटाले की गंभीरता से जांच कर रहा था. उसके अलावा उच्च न्यायालय विशेष जांच दल के माध्यम से इसकी निगरानी कर रहा था. हम इस जांच से पूरी तरह संतुष्ट थे.

पारदर्शिता के लिए फैसला
हमें न्यायपालिका पर पूरा विश्वास है. पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने जोर देते हुए कहा कि इसके बाद भी मुख्यमंत्री ने सरकार की पारदर्शिता साबित करने के लिए सीबीआई जांच संबंधी जो फैसला लिया है, पार्टी उसका स्वागत करती है.

छवि पर असर नहीं
उन्होंने इस बात को पूरी तरह खारिज कर दिया कि घोटाले से उपजे विवाद ने पार्टी की छवि को किसी भी तरह से खराब किया है. उन्होंने कहा कि लोकसभा और विधानसभा चुनावों के अलावा हाल ही में हुए उपचुनावों ने भी साबित कर दिया है कि लोगों को भाजपा पर पूरा विश्वास है. एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में देश में सीबीआई की विश्वसनीयता पर ही सवालिया निशान लगते थे, लेकिन भाजपा को देश की जांच एजेंसियों पर पूरा विश्वास है.

13 को आएंगे अमित शाह
कांग्रेस पर वार करते हुए उन्होंने कहा कि विपक्षी दल को तो सीबीआई जांच पर भी विश्वास नहीं होगा. जाजू ने कहा कि पार्टी के सदस्यता महाअभियान के चालू चरण में संपर्क महाअभियान चल रहा है जो एक माह तक चलेगा और इसके अंतर्गत सदस्यों को कार्यकर्ता के रूप में प्रशिक्षित किया जायेगा.
इसके लिए 13 जुलाई को भोपाल के समन्वय भवन में वृहद बैठक आयोजित की जायेगी. जिसमें भाजपाध्यक्ष अमित शाह भी शिरकत करेंगे

दो नेताओं की गई सदस्यता
पार्टी के दो नेताओं विजय तिवारी और राजेश चौधरी को बुधवार को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया गया है. प्रदेश कार्यालय मंत्री सत्येन्द्र भूषण सिंह ने बताया कि भोपाल जिला को आपरेटिव बैंक के पूर्व अध्यक्ष विजय तिवारी तथा गरोठ नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष राजेश चौधरी को प्रदेश अनुशासन समिति की अनुशंसा पर प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है.

Related Posts: