29ajay singhभोपाल, 29 अप्रैल. पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी को व्यापमं घोटाले पर लिखी चिट्टी पर पलटवार करते हुए कहा कि उनके मुख्यमंत्री काल में मध्यप्रदेश के इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला हुआ है, जिसमें उनकी पार्टी के पूर्व मंत्री सहित ढेर लोग जेल में हैं, जिससे प्रदेश के कई मेधावी छात्र-छात्राओं का भविष्य अंधकारमय हो गया है.

कई ने आत्महत्या कर ली है और इस घोटाले के सीधे तार मुख्यमंत्री निवास से जुड़े है, इसके बावजूद वे इतने साफ -सुथरे हैं तो उन्होंने सी.बी.आई. से इस पूरे मामले की जांच क्यों नहीं करवाई? उन्होंने अपने बयान में कहा है कि जब से व्यापमं घोटाला सामने आया तब से कांग्रेस और स्वयं मुख्यमंत्री की पार्टी की नेता सुश्री उमा भारती और हाल ही में भाजपा के थिंक टैंक रहे गोविन्दाचार्य ने भी व्यापमं घोटाले की जांच सी.बी.आई. से कराने की वकालत की है. सिंह ने कहा कि अब तो भाजपा की ही केन्द्र में सरकार है तब मुख्यमंत्री को किस बात का डर है. उन्हें चाहिए कि वे तत्काल पूरी जांच सी.बी.आई. को सौंप दें.

Related Posts: