rajnathनयी दिल्ली, गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने चीन के सबसे अधिक आबादी वाले शहर शंघाई के सुरक्षा माॅडल की सराहना करते हुए कहा है कि वह इसे अपने भीड़ भाड़ वाले शहरों में लागू करना चाहते हैं। श्री सिंह पिछले चार दिनों से चीन यात्रा पर हैं और बीजिंग में चीन के शीर्ष नेतृत्व के साथ तीन दिन के विचार विमर्श के बाद वह शंघाई पहुंचे हैं।

शंघाई में उन्होंने कमान कंट्रोल सेंटर का दौरा किया जो शहर के बीचोंबीच बना हुआ है और यहां से यह सेंटर पूरे शहर के यातायात पर नजर रखने के साथ-साथ आपात कार्रवाई व्यवस्था को अंजाम देता है। यहां जारी आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार गृह मंत्री को बताया गया कि शंघाई में 88 हजार कैमरे लगे हैं और पुलिस की चार हजार गाडियों में जीजीएस लगा है जो किसी भी अापात स्थिति से निपटने के लिए हमेशा सतर्क रहते हैं।

श्री सिंह ने चीनी अधिकारियों से कहा कि उन्होंने देश में ‘सुरक्षित शहर’ परियोजना के लिए इस तरह के कमान कंट्रोल सेंटर की योजना बनायी है और गृह मंत्रालय को यहां की अच्छी व्यवस्थाओं को वहां लागू करने का निर्देश देंगे। श्री सिंह ने शंघाई में एक स्थानीय पुलिस स्टेशन का भी दौरा किया और वहां के काम काज को देखा। इंफोसिस सेंटर में वह भारतीय समुदाय के लोगों से मिले तथा उन्हें संबांधित किया।

उन्होंने सुरक्षा और आर्थिक क्षेत्र में भारत तथा चीन के संबंधों के महत्व पर जोर देते हुए कहा कि यदि भारत और चीन के ढ़ाई अरब लोगों के दिल और विचार मिल जायें तो इससे न केवल एशिया बल्कि दुनिया में भी बहुत बड़ा बदलाव आयेगा। द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने में चीन के प्रयासों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि चीन की उनकी यात्रा काफी सार्थक रही है। गृह मंत्री ने वहां रहने वाले भारतीय प्रवासियों से देश में निवेश करने की भी अपील की।

Related Posts: