malyaनई दिल्ली,  राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी ने निर्दलीय सदस्य विजय माल्या का इस्तीफा आज स्वीकार कर लिया. उप सभापति पी जे कुरियन ने देर शाम सदन को सूचित किया कि माल्या ने तीन मई को अपना इस्तीफा भेजा था, जिसे सभापति ने आज मंजूर कर लिया.

इससे पहले राज्यसभा की आचार समिति ने माल्या को तत्काल प्रभाव से सदन से निष्कासित करने की सिफारिश की थी. समिति ने आज अपनी बैठक में सर्वसम्मति से यह सिफारिश करने का निर्णय लिया था. माल्या के देश छोडऩे और उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद राज्यसभा में उनकी सदस्यता समाप्त करने की मांग की गयी थी. मामले को कांग्रेस के कर्ण सिंह की अध्यक्षता वाली आचार समिति को भेज दिया गया था. राज्यसभा के निर्दलीय सदस्य माल्या का इस्तीफा प्रक्रिया संबंधी खामियों के कारण कल नामंजूर कर दिया गया था. उन्होंने अपना इस्तीफा सदन की आचार समिति को भेजा था. उनके खिलाफ सीबीआई और ईडी जांच कर रहे हैं. बैंकों ने उन्हें दिवालिया घोषित कर दिया है.

Related Posts:

अशोबा का आतंक: चक्रवाती तूफान से देश के उत्तर-पश्चिमी हिस्सों में भारी बारिश की ...
पेशी के दौरान वकीलों-छात्रों में झड़प
क्चस्स्न ने फिर देखे संदिग्ध, अलर्ट जारी
महाराष्ट्र में कैश हैंडलिंग कंपनी से 12 करोड़ रुपये की लूट
नोटबंदी कालेधन और आतंकवाद के वित्तीय पोषण के खिलाफ लड़ाई की शुरुआत : मोदी
मैं तो गधों से भी प्रेरणा लेता हूं : मोदी