UN-GENERAL ASSEMBLY-SUMMITन्यूयार्क,  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कल संयुक्तराष्ट्र महासचिव वान की मून के समक्ष नियंत्रण रेखा पर युद्धविराम के उल्लंघन और जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना की कथित ज्यादतियों का मुद्दा उठाया.

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी वक्तव्य में कहा गया है कि नवाज शरीफ ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव के समक्ष नियंत्रण रेखा तथा कामकाजी रेखा पर युद्धविराम तथा भारतीय नियंत्रण वाले जम्मू कश्मीर में भारतीय सेना द्वारा मानवाधिकारों के उल्लंघन तथा उसकी ज्यादतियों का मसला उठाया. पाकिस्तानी वक्तव्य के अनुसार संयुक्तराष्ट्र महासचिव ने भारत तथा पाकिस्तान के बीच तनाव पर चिन्ता व्यक्त की .

उन्होंने दोनों देशों को बातचीत शुरु करने और तनाव कम करने में विश्व संस्था की ओर से मदद की बात कही किन्तु संयुक्तराष्ट्र की घटनाओं से संबंधित वेबसाइट में महासचिव की इस सलाह का उल्लेख नही है .

नवाज शरीफ ने अपने देश के भीतर आतंकवाद की लड़ाई के संबंध में अपनी सरकार की प्राथमिकताओं से महासचिव को अवगत कराया . उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अफगानिस्तान में मेल मिलाप कराने में मदद के लिए तैयार है. महासचिव ने संयुक्तराष्ट्र में पाकिस्तान की सक्रिय भूमिका की सराहना की . उन्होंने आतंकवाद के विरुद्ध लड़ाई में भी पाकिस्तान की भूमिका को सराहा .

Related Posts: