लोग हो रहे परेशान, अस्पतालों में लग रहीं मरीजों की कतारें

  • तापमान में अस्थिरता बनी कारण

नवभारत न्यूज भोपाल,

शहर में पिछले कुछ दिनों से लगातार हो रहे मौसम का बदलाव बीमारी का कारण बन रहा है. कारण सदी-जुकाम, वायरल फीवर, खांसी एवं सांस लेने में तकलीफ जैसी बीमारियों से लोग खासे परेशान नजर आ रहे हैं.

इस वजह से सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में मरीजों की संख्या में अच्छी-खासी बढ़ोत्तरी हुई है. आलम यह है कि ओपीडी की कतारों में लगे मरीजों में हर चौथा व्यक्ति वायरल फीवर से पीडि़त मिल रहा है.

मंगलवार को शहर के हमीदिया अस्पताल की ओपीडी लगभग दो हजार मरीजों की रही. वहीं जिला अस्पताल जेपी में करीब 15 सौ की ओपीडी थी. कुल मिलाकर शहर के सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में मरीजों की संख्या लगभग दस से बारह हजार के आसपास थी.

विशेषज्ञ मौसम में हो रहे बदलाव को इसका कारण मान रहे हैं. ज्ञात हो कि पिछले कुछ दिनों से दिन का तापमान रात के तापमान के मुकाबले तीन गुना बढ़ जाता है. हवाएं भी तेज हैं, जिस कारण से वायरल फीवर, सर्दी-जुकाम, खांसी और हवाओं में व्याप्त धूल के कणों की वजह से सांस लेने में तकलीफ होने की समस्या देखी जा रही है.

तापमान में लगातार हो रहे बदलाव के कारण वायरल फीवर, सर्दी-जुकाम, खांसी इत्यादि रोग बढ़ गये हैं. ओपीडी में आ रहे मरीजों में करीब 25 प्रतिशत मरीज इन्हीं रोगों से संबंधित होते हैं.
डॉ. आई.के. चुघ
सिविल सर्जन जेपी अस्पताल