• चौकीदार के शोर मचाने पर भागे असामाजिक तत्व,
  • मूर्ति को चुराने की कोशिश विफल

नवभारत न्यूज ग्वालियर

महारानी लक्ष्मीबाई कॉलेज में छात्र आंदोलन के दौरान शहीद हुये हरि सिंह – दर्शन सिंह की प्रतिमाएं कॉलेज में स्थापित की गईं थीं।

जिन्हें आज अल सुबह करीब 3-4 अज्ञात लोगों ने हरि सिंह की मूर्ति को तोडक़र चुराने का प्रयास किया लेकिन कॉलेज के चौकीदार के चिल्लाने पर चोर मूर्ति छोड़ भाग खड़े हुये । इस घटना की जानकारी चौकीदार ने कॉलेज के प्रभारी प्रचार्य को दी । जिस पर उन्होंने अज्ञात चोरों के खिलाफ कम्पू थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया है।

कम्पू थाने क्षेत्र में आने वाले एमएलबी कॉलेज में स्थापित शहीद हरी सिंह और दर्शन सिंह की मूर्ति तोड़ चुराने का प्रयास किया गया । चोरों ने सीमेंट की मूर्ति को अष्टधातु का समझ कर हरी सिंह की मूर्ति को चुपचाप तोड़ दिया।

चोरों ने मूर्ति को बोरे में डाला और उसे ले जाने लगे। सुबह 4 बजे के आसपास इस हरकत पर चौकीदार सुरेश कुमार कुशवाह की नजर पड़ गई। चौकीदार के चिल्लाने पर चोर अचलेश्वर मंदिर के पास की दीवार के पास मूर्ति को छोडक़र भाग निकला ।

सूचना पर कॉलेज के प्राचार्य के.एस राठौड़ पहुंचे और उन्होंने घटना की जानकारी देते हुये कम्पू थाने में एफआईआर दर्ज करा दी । पुलिस ने अज्ञात चोरों की तलाश शुरू कर दी है।

मुझे चौकीदार सुरेश कुमार कुशवाह ने जानकारी दी कि कॉलेज में चोरों द्वारा शहीद हरि सिंह की प्रतिमा को तोडक़र ले जाया जा रहा था । मेरे द्वारा शौर मचाने पर चोर मूर्ति को अचलेश्वर मंदिर के पास छोड़ भाग गए । इस सूचना पर मैंने थाने में एफआईआर दर्ज करा दी है। रही बात मूर्ती की तो उसे नयी बनाने की कार्यवाही की जावेगी ।
डॉ. के.एस. राठौड़, प्रभारी प्राचार्य

Related Posts: