भोपाल,

नगर निगम भोपाल द्वारा कोकता बायपास मार्ग स्थित रानी अवंती बाई ट्रांसपोर्ट नगर में 3 दिवसीय शिविर आयोजन के क्रम में शनिवार, 17 मार्च को भी प्रात: 11.00 से सांय 05.00 बजे तक शिविर का आयोजित किया जायेगा.

शिविर के दूसरे दिन आज उपायुक्त विनोद कुमार शुक्ल की मौजूदगी में व्यवसाय हेतु पात्रता प्राप्त 17 व्यवसायियों ने अपने भूखण्डों की राशि 7 लाख 64 हजार 761 रुपये जमा कराई साथ ही अनेक ट्रांसपोर्टस एवं मेकेनिक व्यवसायियों ने शिविर में पहुंचकर जानकारी प्राप्त की. शिविर में अब तक 30 व्यवसायियों ने भूखण्ड आवंटन की औपचारिकताएं पूर्ण कर राशि जमा करा दी है.

अनेक आवंटी व्यवसायी शिविर में आकर जानकारी प्राप्त करने के उपरांत शनिवार, 17 मार्च को ट्रांसपोर्ट नगर में लगे इस शिविर में आकर राशि जमा करा सकेंगे.

बरखेड़ा पठानी के 2 बकायादारों की सम्पत्ति कुर्क – नगर निगम भोपाल द्वारा बरखेड़ा पठानी स्थित श्याम नगर और कृष्णा नगर में 2 बकायादारों की सम्पत्ति कुर्क करने की कार्यवाही निगम अमले द्वारा की गई.

40 दुकानदारों पर चालानी कार्यवाही

नगर निगम द्वारा रॉयल मार्केट क्षेत्र में निगम से लायसेंस प्राप्त किए बगैर दुकान संचालित करने वाले 40 दुकानदारों के विरूद्ध मध्यप्रदेश नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की धारा 366 के अंतर्गत चालानी कार्यवाही की गई है.

उनके प्रकरण विशेष न्यायाधीश म्यूनिसिपल मजिस्टे्रट जिला न्यायालय भोपाल के समक्ष प्रस्तुत किए जाएंगे.राकेश शर्मा के नेतृत्व में आज नगर निगम के अमले ने रॉयल मार्केट क्षेत्र में संचालित दुकानों के लायसेंस की जांच की।

इस दौरान यहां संचालित नूर किराना स्टोर, न्यू एवल गैस बेल्डिंग, यूनिक मोबाईल, जमील आईल शॉप, मिलन मोटर रिपेयरिंग, फेमस गैरिज, लवली ऑटो गैरिज, बरकत टी स्टाल, एवन शाकअप रिपेयरिंग आदि सहित 40 दुकानदारों के पास लायसेंस नहीं पाए गए.जिसके फलस्वरूप उक्त दुकानदारों के विरूद्ध चालानी कार्यवाही की की गई.

अवकाश के दिनों में खुलेंगे वार्ड कार्यालय

नगर निगम द्वारा चालू वित्तीय वर्ष के अंतिम माह में नागरिकों को अवकाश के दिनों में निगम को देय सम्पत्तिकर सहित अन्य करों की राशि निगम में जमा कराने की सुविधा प्रदान करने के दृष्टिगत तृतीय शनिवार, 17 मार्च, 18 मार्च एवं चैती चांद सोमवार, 19 मार्च को अवकाश होने के बाद भी निगम के सभी वार्ड कार्यालय एवं नागरिक सुविधा केन्द्र खुले रहेंगे.

नागरिक उक्त अवकाश के दिनों में अपने संबंधित वार्ड कार्यालय अथवा नागरिक सुविधा केन्द्र में जाकर बकाया करों का भुगतान करें और नगर निगम को शहर के विकास हेतु किए जाने वाले कार्यों में सहयोग प्रदान करें.

Related Posts: