naiduनयी दिल्ली,  केंद्रीय शहरी विकास मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने आज छोटे व्यापारियों के ई-कॉमर्स पोर्टल ‘ई-लाला बिज’ की लांचिंग की।

अखिल भारतीय व्यापारी परिसंघ (कैट) के तत्वावधान में शुरू किये गये इस पोर्टल का उद्देश्य दुकानों के साथ-साथ ई-कॉमर्स पोर्टल पर भी छोटे दुकानदारों और व्यापारियों की मजबूत उपस्थिति दर्ज कराना है, ताकि वे ई-कॉमर्स साइटों से मिल रही चुनौती का सामना करने के लिए तैयार हो सकें।

कैट ने बताया कि मार्च 2016 तक देश के 100 शहरों से 50 हजार विक्रेताओं को इस पोर्टल से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। ऑनलाइन भुगतान के लिए मास्टरकार्ड और इसके लिए गेटवे उपलब्ध कराने के लिए घरेलू निजी बैंक एचडीएफसी बैंक के साथ करार किया गया है।

इस पोर्टल पर केवल वही व्यक्ति विक्रेता बन सकता है, जिसका पहले से ही अपना व्यावसायिक प्रतिष्ठान है। खरीददारी पर पैसे का भुगतान पोर्टल की बजाय सीधे विक्रेता को किया जायेगा। हालाँकि, शुरुआत में यहाँ नकद भुगतान भी विकल्प दिया जायेगा, लेकिन बाद में इसे समाप्त करने की योजना है, जिससे नकद रहित लेनदेन को बढ़ावा मिलेगा। सामान की डिलीवरी मुख्यत: विक्रेता द्वारा ही की जायेगी। कैट ने बताया कि खास बात यह है इस मार्केट प्लेस पर पोर्टल का कोई नियंत्रण नहीं होगा।