shri_shriनई दिल्ली,  आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर की संस्था आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन के 11 मार्च से यमुना किनारे शुरू होने वाले विवादित च्विश्व सांस्कृतिक महोत्सव को लेकर एनजीटी ने जल संसाधन मंत्रालय और केंद्र सरकार से तीन बेहद तीखे सवाल पूछे. इस मामले पर एनजीटी में सुनवाई बुधवार को भी जारी रहेगी।

मंगलवार को मामले पर सुनवाई के दौरान एनजीटी ने जल संसाधन मंत्रालय और केंद्र सरकार से च्विश्व सांस्कृतिक महोत्सवज् से यमुना पर पडऩे वाले प्रभाव को लेकर केंद्र सरकार से सवाल पूछे. मंत्रालय को इन सवालों के जवाब कल सुनवाई के दौरान देने होंगे।

एनजीटी ने जल संसाधन मंत्रालय से पूछा कि क्या इस कार्यक्रम से पर्यावरण पर पडऩे वाले प्रभाव को लेकर कोई अध्ययन किया गया है. एनजीटी ने कार्यक्रम के लिए यमुना पर प्रस्तावित पंटून पुल पर भी सरकार से सफाई मांगी. एनजीटी ने कहा कि क्या यमुना पर पुल बनाने की इजाजत दी गई थी. साथ ही सवाल किया कि क्या इस बात का ध्यान रखा गया कि यमुना की रक्षा कैसे की जाएगी।

Related Posts:

अखिलेश ने की मनमोहन से मुलाकात
शीला पर शिकंजा: टैंकर खरीद घोटाले में प्राथमिकी की सिफारिश
जल्लीकट्टू : केंद्र की अधिसूचना पर सुप्रीम कोर्ट का इंकार
तकनीकी खराबी के कारण रेड लाइन पर अटकी मेट्रो
टॉपर्स फर्जीवाड़ा से देश में बिहार की छवि खराब : रुडी
जबतक नीतीश मुख्यमंत्री रहेंगे बिहार का भला नहीं होगा : रामविलास