sushmaइस्लामाबाद,  विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दोनों देशों के बीच संबंधों को बनाये रखने के लिए आज पाकिस्तान से परिपक्वता दिखाने एवं भरोसा करने का आह्वान किया।

श्रीमती स्वराज ने कहा कि भारत पाकिस्तान के साथ सहयोग करने के लिए तैयार है लेकिन संबंधों को बनाये रखने के लिए परिपक्वता एवं भरोसे की आवश्यकता है।

उन्होंने अफगानिस्तान के मुद्दे पर हो रहे हार्ट ऑफ एशिया के मंत्रिस्तरीय पाँचवे सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, च्च्मुझे इस अवसर का फायदा उठाने दीजिये और पाकिस्तान के तरफ हाथ बढ़ाने दीजिये। यह समय है कि हम आपसी संबंधों को बनाये रखने तथा क्षेत्रीय व्यापार एवं सहयोग को बढ़ाने के लिए परिपक्वता दिखाएँ और एक-दूसरे पर भरोसा करें। पूरा विश्व बदलाव का इंतजार कर रहा है। हमें उन्हें निराश नहीं करना चाहिए।

उन्होंने अफगानिस्तान के संदर्भ में कहा कि युद्धग्रस्त देश को भारत के साथ जारी शून्य निर्यात कर व्यवस्था का लाभ उठाना चाहिए। इससे जल्दी कोई और उपाय फायदा नहीं पहुँचा सकती। उन्होंने कहा कि यदि अफगानिस्तान की ट्रकें भारतीय उत्पादों को अपने देश एवं मध्य एशिया के बाजारों में लेकर जाती हैं तो यह वहाँ ट्रकों के आवागमन को प्रभावी बनाने और पूरे क्षेत्र को अधिकतम फायदा पहुंचाने का सर्वश्रेष्ठ जरिया हो सकता है।