ऑनलाइन परीक्षा से भरे जाएंगे 31 हजार पद,

परीक्षा मार्च से

नवभारत न्यूज ग्वालियर,

चुनावी साल में राज्य सरकार ३१ हजार से ज्यादा बेरोजगारों को संविदा शिक्षक बनाने की तैयारी कर रही है। इसमें अतिथि शिक्षकों को भी प्राथमिकता दी जाना है।

स्कूल शिक्षा विभाग ने भर्ती नियमों में संशोधन कर प्रस्ताव शासन को भेजा और शासन ने इसे मंजूर करते हुए जून से पहले चयन परीक्षा कराने का निर्णय लिया है. शासन की अधिसूचना जारी होने के बाद प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) ने 8 जनवरी से 9 फरवरी तक वर्ग-1, 2 और 3 के आवेदन मांगे हैं.

इसके बाद 19 मार्च से 3 अप्रैल तक वर्ग-3 की परीक्षा होगी. जबकि 17 से 23 अप्रैल तक वर्ग-2 की परीक्षा होगी. वर्ग-1 की परीक्षा प्रदेश में 1 ही दिन 2 मई को कराई जाएगी. बताना होगा कि शिक्षकों के ६० हजार से ज्यादा पद खाली हैं। फिर भी वर्ष २०१३ से संविदा शिक्षक परीक्षा टल रही थी। सरकार ने विधानसभा चुनाव से ठीक पहले परीक्षा कराने का निर्णय लिया और अब तैयारी पूरी कर लही है.

अब तक करीब पांच बार भर्ती नियमों में संशोधन किया जा चुका है। वैसे विभाग का दावा है कि इस बार भर्ती नियम जारी होने के बाद कोई संशोधन नहीं कर रहे. यह परीक्षा ३१ हजार ६५८ पदों के लिए होगी। उल्लेखनीय है कि इससे पहले वर्ष २०११ में संविदा शिक्षक परीक्षा हुई थी।

Related Posts: