akhileshलखनऊ,  मायावती सरकार की अपेक्षा अखिलेश सरकार के कार्यकाल में पुलिस कर्मियों पर हमले बढ़े हैं. सरकार की ओर से यह जवाब बीजेपी सदस्य डॉक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल के सवाल पर दिया गया. हालांकि, सरकार ने तर्क दिया कि पिछले सरकार में तो पुलिस पर हमले की एफआईआर तक दर्ज नहीं होती है.

इस सरकार में मामले रजिस्टर तो हो रहे हैं, इसलिए संख्या बढ़ी है. डॉक्टर अग्रवाल ने पूछा था कि 2012-13 से 2015-16 के बीच पुलिस कार्रवाई में कितनी मौतें हुईं. कितनी मौतें पुलिस थानों में हुईं. 2007 से लेकर 2015 तक पुलिस पर कितने आक्रमण हुए ?